News Nation Logo
Banner

Kerala Election: कांग्रेस नेता तिरुवंचूर राधाकृष्णन के राजनीतिक सफर पर नजर

ओमान चांडी की सरकार में तिरुवंचूर राधाकृष्णन (Thiruvanchoor Radhakrishnan) गृह मंत्रालय भी रह चुके हैं. इसके अलावा कांग्रेस की युवा इकाई के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. पिछले चुनाव में उन्होंने CPI(M) के रीजी सखरिया को 33 हजार से ज्यादा वोटों से हराया था.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 16 Mar 2021, 03:41:10 PM
Thiruvanchoor Radhakrishnan

Thiruvanchoor Radhakrishnan (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • ओमान चांडी की सरकार में गृह मंत्री रह चुके हैं
  • पिछले चुनाव में 33 हजार से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की
  • अब तक कई मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं

नई दिल्ली:

केरल (Kerala) में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है. सभी दलों ने अपनी कमर कस ली है. सभी दलों की ओर से उम्मीदवारों के नाम भी लगभग-लगभग तय हो गए हैं. कांग्रेस पार्टी ने केरल में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के लिए 86 उम्मीदवारों की लिस्ट भी जारी कर दी है. इस चुनाव में कांग्रेस नेता तिरुवंचूर राधाकृष्णन (Thiruvanchoor Radhakrishnan) के नाम पर काफी चर्चा हो रही है. कांग्रेस की प्रदेश इकाई में ओमान चांडी के बाद नंबर दो का नेता माना जाता है. ओमान चांडी की सरकार में तिरुवंचूर राधाकृष्णन (Thiruvanchoor Radhakrishnan) गृह मंत्रालय की जिम्मेदारी भी संभाल चुके हैं. इसके अलावा कांग्रेस की युवा इकाई के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. पिछले चुनाव में उन्होंने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के रीजी सखरिया को 33 हजार से ज्यादा वोटों से हराया था. 

तिरुवंचूर राधाकृष्णन का जन्म 26 दिसंबर 1949 में त्रावणकोर कोचीन में हुआ था. उन्होंने सरकारी लॉ कॉलेज, तिरुवनंतपुरम से बैचलर ऑफ लॉ (एलएलबी) की डिग्री ली है. वकालत की पढ़ाई करने के बाद उन्होंने कोट्टयम बार में एक वकील के रूप में कई वर्षों तक काम किया है. साल 2012 से 2014 तक वह केरल सरकार के ओमन चांडी मंत्रालय में गृह मंत्री थे. बाद में उन्हे जागरूकता विभाग सौंपा गया था. साल 1991, 1996, 2001 और 2006 में केरल विधानसभा के लिए अडूर से चुने गए और वर्तमान में कोट्टायम निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. उन्होंने केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (आई) के महासचिव के रूप में भी कार्य किया.

राजनीतिक सफर 

ये भी पढ़ें- Kerala Election: 2 बार CM बनने वाले ओमान चांडी का प्रोफाइल

साल 1965 में तिरुवंचूर राधाकृष्णन को ऑल केरल बालजनसंख्यम के अध्यक्ष चुना गया. साल 1967 में उन्हें केएसयू राज्य महासचिव और केएसयू राज्य अध्यक्ष बनें. साल 1967 में उन्हें बेसिलियो कॉलेज की छात्र यूनियन का महासचिव और अध्यक्ष बनाया गया था. इसके अलावा साल 1978 उनको प्रदेश में युवा कांग्रेस की जिम्मेदारी देते हुए इस इकाई का अध्यक्ष बनाया गया. इस दौरान उन्होंने प्रदेश में पार्टी को मजबूत करने का काम किया. उन्होंने युवाओं को पार्टी से जोड़ा.

कई मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं

71 साल के तिरुवंचूर राधाकृष्णन अब तक कई जिम्मेदारियों को संभाल चुके हैं. ओमान चांडी की सरकार में गृहमंत्री के अलावा वे कई मंत्रालयों को संभाल चुके हैं. साल 2004 में उन्हें यूडीएफ सरकार ने सिंचाई और जल संसाधन मंत्री और संसदीय मामलों के मंत्री रह चुके हैं. साल 2005 में उन्हें वन मंत्री बनाया गया था. साल 2006 में उनको स्वास्थ्य मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई थी. साल 2012 से 2014 तक ओमन चांडी की सरकार में गृह मंत्री रह चुके हैं. 2014 में उन्हें वन, परिवहन, खेल, सिनेमा और पर्यावरण विभाग का कार्यभार सौंपा गया था.

ये भी पढ़ें- केरल चुनाव: कांग्रेस सांसद सुधाकरन ने पार्टी की लिस्ट पर जताई नाखुशी

33 हजार से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की

तिरुवंचूर राधाकृष्णन ने अपना पिछला चुनाव कोट्टायम (Kottayam) विधानसभा सीट लड़ा था. ये सीट केरल की महत्वपूर्ण विधानसभा सीटों में से एक है, इस सीट से उन्होंने साल 2016 के विधानसभा चुनावों में जीत दर्ज की थी. 2016 में कोट्टायम में कुल 57.46 प्रतिशत वोट पड़े. 2016 में कांग्रेस से तिरुवंचूर राधाकृष्णन ने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के रीजी सखरिया को 33 हजार 632 वोटों के मार्जिन से हराया था. इस संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं थॉमस चाझिकादान, जो केरल कांग्रेस (एम) से हैं. उन्होंने कम्‍युनिस्‍ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्‍सवादी)के वीएन वसावन को 1 लाख 6 हजार 259 से हराया था.

First Published : 16 Mar 2021, 03:41:10 PM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.