News Nation Logo
Banner

दिल्ली चुनाव में AAP की मुफ्त योजनाओं ने दिलाई पार्टी को भारी जीत

पार्टी के भीतरी लोगों के साथ ही आलोचकों ने भी पार्टी की जबर्दस्त जीत का श्रेय दिल्लीवासियों के लिए लाई गई मुफ्त (Free) की कई योजनाओं को दिया है.

News State | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 12 Feb 2020, 04:16:52 PM
मुफ्त की योजनाएं बनी जीत का कारण.

मुफ्त की योजनाएं बनी जीत का कारण. (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • जीत के पीछे दिल्लीवासियों के लिए मुफ्त की कई योजनाओं का हाथ.
  • सरकार ने 'मुख्यमंत्री तीर्थ योजना' भी शुरू की.
  • 'दिल्ली के चुनाव में मुद्दे हार गए, मुफ्तखोरी जीत गई.'

नई दिल्ली:  

आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता और कार्यकर्ता दिल्ली की सत्ता पर लगातार तीसरी बार काबिज होने के जश्न में डूबे हुए हैं, वहीं पार्टी के भीतरी लोगों के साथ ही आलोचकों ने भी पार्टी की जबर्दस्त जीत का श्रेय दिल्लीवासियों के लिए लाई गई मुफ्त (Free) की कई योजनाओं को दिया है. पार्टी के एक कार्यकर्ता ने चुनाव परिणामों (Assembly Results) पर राहत की सांस लेते हुए कहा, '200 यूनिट तक मुफ्त बिजली और उसके ऊपर भी लगभग न के बराबर बिल आना, सार्वजनिक परिवहन की बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा, हर महीने 20,000 लीटर तक मुफ्त पानी और वरिष्ठ नागरिकों के लिए मुफ्त तीर्थयात्रा अंतत: रंग लाई.'

यह भी पढ़ेंः AAP विधायक नरेश यादव को ठिकाने लगाने का षड्यंत्र 20 दिन पहले से रचा गया

मुफ्त ने बदला माहौल
पार्टी कार्यकर्ताओं ने याद किया कि विधानसभा चुनाव की दौड़ में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और आप के अन्य नेताओं ने चुनाव रैलियों के दौरान मतदाताओं के साथ बातचीत में दिल्ली सरकार की विभिन्न योजनाओं पर खास जोर दिया जो लोगों को या तो मुफ्त या बेहद कम दर पर सेवाएं उपलब्ध कराती हैं. हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप की जीत को मुफ्तखोरी की जीत बताया था. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'दिल्ली के चुनाव में मुद्दे हार गए, मुफ्तखोरी जीत गई.' विज का इशारा सस्ती बिजली और पानी के साथ ही राष्ट्रीय राजधानी में महिलाओं के लिए मुफ्त बस यात्रा की तरफ था.

यह भी पढ़ेंः अरविंद केजरीवाल की टीम में ये दो नए चेहरे हो सकते हैं शामिल

बीजेपी ने भी माना मुफ्त का प्रचार रंग लाया
भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी कहा कि आप की मुफ्त योजनाओं ने दिल्ली चुनाव में उसे बड़ी जीत दिलाई. आप सरकार ने पिछले अक्टूबर में भाई दूज के मौके पर सार्वजनिक परिवहन की बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा की योजना शुरू की थी और कहा था कि यह कदम महिलाओं को सशक्त बनाएगा और राष्ट्रीय राजधानी में उनकी सुरक्षा सुनिश्चित होगी. आप के एक उत्साहित नेता ने कहा कि यह कदम राष्ट्रीय राजधानी में रहने वाली महिलाओं का समर्थन जुटाने के लिहाज से उठाया गया था. साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी को विश्वास था कि इससे विधानसभा चुनाव में उसे लाभ होगा.

यह भी पढ़ेंः टेरर फंडिंग मामले में कोर्ट ने हाफिज सईद को दोषी माना, सुनाई ये सजा

ये किया गया था मुफ्त
केजरीवाल ने 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली और प्रति माह 201 से 400 यूनिट तक बिजली का उपभोग करने वाले उपभोक्ताओं को 50 प्रतिशत छूट देने की घोषणा भी की थी. बाद में किराएदारों को भी योजना के दायरे में लाया गया. इससे पहले तक किराएदारों को 400 यूनिट तक बिजली उपभोग पर सरकार की 50 प्रतिशत सब्सिडी नहीं मिल रही थी. आप सरकार ने पानी और सीवर के नये कनेक्शन के लिए विकास एवं अवसंरचना शुल्क भी घटाने का फैसला किया. इसके अलावा सरकार ने 'मुख्यमंत्री तीर्थ योजना' भी शुरू की जिसके तहत वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त तीर्थयात्रा कराई जाती है.

First Published : 12 Feb 2020, 04:16:52 PM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.