News Nation Logo
Banner

Delhi Election 2020: मतगणना के बीच क्या है मुस्लिम बहुल सीटों की स्थिति, जानें

दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए मतगणना जारी है. वीवीआई सीटों के साथ-साछ लोगों की निगाहें मुस्लिम बहुल विधानसभा सीटों पर भी टिकी हुई हैं

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 11 Feb 2020, 12:37:10 PM
मुस्लिम बहुल सीटों की स्थिति

मुस्लिम बहुल सीटों की स्थिति (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए मतगणना जारी है. वीवीआई सीटों के साथ-साछ लोगों की निगाहें मुस्लिम बहुल विधानसभा सीटों पर भी टिकी हुई हैं. ये सीटें महत्वपूर्ण इसलिए भी हैं क्योंकि यहां सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी किया जा रहा है. ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा इन मुस्लिम बहुल सीटों की फिलहाल क्या स्थिति है.

दिल्ली में मुस्लिम बहुल सीटों की संख्या 8 है जबकि मुस्लिम मतदाता 12 फीसदी हैं. 8 मुस्लिम बहुल सीटों में बल्लीमारान, सीलमपुर, ओखला, मुस्तफाबाद, चांदनी चौक, मटिया महल, बाबरपुर और किराड़ी सीटें शामिल हैं. यहां मुस्लिम मतदाताओं की संख्या 35 से 60 फीसदी है.

बल्लीमारान सीट

सबसे पहले बात करें बल्लीमारान सीट की तो यहां इस बार सबसे अधिक मतदान हुआ. 8 फरवरी को चांदनी चौक लोकसभा क्षेत्र (Chandni Chowk Lok Sabha Constituency) के अंतर्गत आने वाली इस सीट पर 71.6 फीसदी मतदान हुआ. जबकि 2015 के विधानसभा चुनाव में यहां कुल 68 फीसदी मतदाताओं ने वोट डाले थे. बल्लीमारान सीट पर इस बार मुकाबला त्रिकोणीय है. यहां आम आदमी पार्टी ने इस बार कांग्रेस छोड़कर आए इमरान हुसैन को चुनावी मैदान में उतारा है. जबकि भारतीय जनता पार्टी ने लता लोढ़ी पर अपना दांव लगाया और कांग्रेस ने हारुन यूसुफ को टिकट दिया है. यह विधानसभा क्षेत्र कभी कांग्रेस का गढ़ हुआ करता था. लेकिन पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी की आंधी में कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ा था. यहां बीजेपी आज तक अपना खाता नहीं खोल पाई है. बात करें शुरुआती रुझानों की तो AAP के इमरान हुसैन 1469 वोटों से आगे चल रहे हैं.

सीलमपुर सीट


दिल्ली की सीलमपुर विधानसभा सीट उत्तर-पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है. दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में सीलमपुर से आप के अब्दुल रहमान और कांग्रेस के पूर्व विधायक चौधरी मतीन के बीच कड़ा मुकाबला था. इस सीट से बीजेपी ने कौशल मिश्रा को मैदान में उतारा गया था. इस सीट का रिजल्ट भी सामने आ गया है जिसमें आप के अब्दुल रहमान ने जीत हासिल की है


ओखला

ओखला सीट पर AAP के मौजूदा विधायक अमानतुल्ला खान के सामने कांग्रेस से पूर्व विधायक परवेज हाशमी मैदान में है. वहीं, बीजेपी से ब्रह्म सिंह किस्मत आजमा रहे हैं. रुझान में अमानतुल्ला खान पीछे चल रहे हैं. बता दें, ओखला दिल्ली का एक ऐसा मुस्लिम बहुल विधानसभा क्षेत्र है, जहां से जनता दल, कांग्रेस, राजद और आप सहित विभिन्न पार्टियों के विधायक चुने जाते रहे हैं. इस निर्वाचन क्षेत्र का एक हिस्सा पॉश इलाका कहलाता है, जिसका नाम है न्यू फ्रें ड्स कॉलोनी. यह इसी निर्वाचन क्षेत्र के दूसरे इलाके जाकिर नगर से कई मायनों में बिल्कुल अलग है. जाकिर नगर में पीने के पानी, बेहतर सड़कों और पक्की नालियों जैसी बुनियादी सुविधाओं का नितांत अभाव था.

मुस्तफाबाद

रुझानों में इस सीट से जगदीश प्रधान आगे चल रहे हैं. यहां कांग्रेस के अली मेंहदी के खिलाफ आम आदमी पार्टी से हाजी युनूस मैदान में हैं. यहां बीजेपी के जगदीश प्रधान किस्मत आजमा रहे हैं. इससे पहले 2015 में बीजेपी ने इस सीट पर जीत दर्ज की थी.

चांदनी चौक

बीजेपी ने यहां से सुमन गुप्ता, कांग्रेस ने अलका लांबा और आम आदमी पार्टी ने परलाद सिंह को मैदान में उतारा है. 8 फरवरी को हुए मतगणना में 61.03 प्रतिशत मतदान हुए. चांदनी चौक सीट से आम आदमी पार्टी के प्रलाद सिंह साहनी आगे चल रहे हैं.

मटिया महल

आप ने शोएब इकबाल को इस सीट पर खड़ा किया, जो चुनाव से ठीक पहले ही कांग्रेस का दामन छोड़कर आए हैं. जबकि बीजेपी ने रवींद्र गुप्ता को मैदान में उतारा है और कांग्रेस ने मिर्जा जावेद अली पर अपना दांव लगाया है. इस बार यहां 70.38 फीसदी मतदाताओं ने अपना मत का इस्तेमाल किया. जबकि 2015 में इस सीट पर मतदान प्रतिशत 69.3 फीसदी रहा था.

यह विधानसभा सीट दिल्ली के उन विधानसभा क्षेत्रों में शुमार है, जहां आज तक बीजेपी और कांग्रेस को जीत हासिल नहीं हुई. इस सीट पर देश की सबसे बड़ी दोनों पार्टियों की पकड़ कभी नहीं रही. फिलहाल AAP के शोएब इकबाल ने रुझानों में 9515 वोटों से बढ़त बना रखी है.

बाबरपुर

बाबरपुर विधानसभा सीट पर बीजेपी से नरेश गौर, आम आदमी पार्टी से गोपाल राय और कांग्रेस से अनवीक्षा दीक्षित मैदान में हैं. 2015 में आम आदमी पार्टी से गोपाल राय विधायक चुने गए थे. फिलहाल रुझानों में इस सीट पर गोपाल राय आगे चल रहे हैं.

किराड़ी

इस सीट पर आम आदमी पार्टी के रितुराज गोविंद आगे चल रहे हैं. यहां से कांग्रेस की सहयोगी आरजेडी ने मोहम्मद रियाजुद्दीन को उतारा है. जबकि आप ने रितुराज गोविंद और बीजेपी से अनिल झा चुनावी मैदान में हैं.

First Published : 11 Feb 2020, 12:36:37 PM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.