News Nation Logo

ओवैसी ने BJP को बताया 'ड्रामा कंपनी', कहा- कांग्रेस के कमजोर होने से मिली सफलता

कांग्रेस खत्म होने की कगार पर है और अब इस पार्टी में संघर्ष करने की क्षमता नहीं बची है.

By : Ravindra Singh | Updated on: 17 Oct 2019, 09:03:44 PM
असदुद्दीन ओवैसी

highlights

  • ओवैसी ने बीजेपी और कांग्रेस पर बोला हमला
  • ओवैसी ने बताया बीजेपी की सफलता का राज
  • पहले भी ओवैसी कांग्रेस पर हमला बोलते आए हैं

नई दिल्‍ली:

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 में चुनावी जनसभा के दौरान ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है. ओवैसी ने कहा कि, कांग्रेस खत्म होने की कगार पर है और अब इस पार्टी में संघर्ष करने की क्षमता नहीं बची है. ओवैसी ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा, 'यह ड्रामा कंपनी (भारतीय जनता पार्टी) भारतीय लोकतंत्र में सफल हुई है क्योंकि कांग्रेस कमजोर हो गई है. कांग्रेस खत्म होने की कगार पर है, इसमें अब मुकाबला करने की क्षमता नहीं बची है.' ओवैसी ने कांग्रेस पर वार करते हुए सवाल किया कि जब इंदिरा गांधी द्वारा बनाए गए कानून (गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम) को मोदी सरकार द्वारा बदला गया, तब कांग्रेस कहां थी.

यह भी पढ़ें- INX Media Case: कोर्ट ने पी चिदंबरम दिया झटका, 24 अक्टूबर तक ED की हिरासत में 

एआईएमआईएम चीफ ओवैसी इतने पर ही चुप नहीं हए उन्होंने आगे कहा कि आतंकवाद के नाम पर एक लिस्ट लाई जाएगी, जिसपर किसी का नाम लिखा होगा सरकार उसे आतंकवादी घोषित कर देगी उसकी पूरी जिंदगी बर्बाद हो जाएगी और वो शख्स अदालत के दरवाजे पर न्याय भी नहीं मांग पाएगा. अदालत भी उस शख्स को आतंकवादी घोषित कर देगी. ओवैसी ने कहा कि बीजेपी इस तरह का कानून लाई और कांग्रेस ने उनका समर्थन भी कर दिया.

यह भी पढ़ें-VIDEO: एक बार फिर शेर के पिंजरे में गिरा युवक, उसके बाद जमकर हुआ हंगामा

यह पहला मौका नहीं है जब ओवैसी ने कांग्रेस पर हमला बोला हो इसके पहले भी ओवैसी ने एक अन्य जनसभा में कहा था कि, 'देश के राजनीतिक नक्शे से अब कांग्रेस का सफाया हो चुका है. अब उसे 'कैल्शियम का इंजेक्शन' देकर भी जिंदा नहीं किया जा सकता है.' आपको बता दें कि ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) ने साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में प्रकाश आंबेडकर की पार्टी भारिपा बहुजन महासंघ और वंचित बहुजन अगाड़ी (VBA) के साथ गठबंधन कर चुनावी मैदान में ताल ठोकी थी लेकिन इस गठबंधन के बावजूद एआईएमआईएम को महज एक सीट ही मिल पाई थी जबकि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में एआईएमआईएम ने दो सीटें जीती थीं.

यह भी पढ़ें-पंजाब नेशनल बैंक घोटाला मामला: नीरव मोदी की हिरासत 11 नवंबर तक बढ़ाई गई

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Oct 2019, 06:40:57 PM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.