News Nation Logo

हार्दिक पटेल नहीं लड़ पाएंगे लोकसभा चुनाव, गुजरात हाई कोर्ट ने दिया ये बड़ा झटका

हार्दिक पटेल नहीं लड़ पाएंगे लोकसभा चुनाव, गुजरात हाई कोर्ट ने दिया ये बड़ा झटका

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 29 Mar 2019, 05:25:50 PM
हार्दिक पटेल (ANI)

हार्दिक पटेल (ANI)

नई दिल्‍ली:

हाल ही में अहमदाबाद में हुए कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के दौरान पार्टी में शामिल हुए हार्दिक पटेल लोकसभा चुनाव नहीं लड़ पाएंगे. हार्दिक मेहसाणा में 2015 में दंगे में दोषी ठहराए गए हैं. अपनी सजा को निलंबित करने के लिए हार्दिक पटेल ने गुजरात हाई कोर्ट में अपील की थी, जिसे हाई कोर्ट ने ठुकरा दिया है. जनप्रतिनिधित्‍व कानून 1951 के अनुसार, दोषी ठहराया गया कोई भी व्‍यक्‍ति चुनाव लड़ने योग्‍य नहीं माना जाएगा. इसी के तहत हार्दिक पटेल भी चुनाव नहीं लड़ पाएंगे. गुजरात हाईकोर्ट के इस फैसले से हार्दिक पटेल के साथ-साथ कांग्रेस को भी बड़ा झटका लगा है. 

हाई कोर्ट के फैसले के बाद हार्दिक पटेल ने कहा- गुजरात हाईकोर्ट के फैसले का स्वागत करता हूं. चुनाव तो आते हैं जाते हैं. बीजेपी संविधान के खिलाफ़ काम कर रही है. कांग्रेस के 25 साल के युवा कार्यकर्ताओं को चुनाव लड़ने से रोका जा रहा है. बीजेपी के बहुत सारे नेताओं पर केस हैं, सजा भी हैं पर कानून सिर्फ हमारे लिए है. हम डरने वाले नहीं हैं. सत्य, अहिंसा और ईमानदारी से आम जनता की आवाज उठाते रहेंगे. पार्टी के लिए गुजरात समेत पूरे देश में प्रचार करूंगा. मेरा कसूर सिर्फ इतना है कि मैं भाजपा के सामने झुका नहीं. सत्ता के सामने लडने का यह परिणाम हैं.

पटेल आरक्षण की मांग को लेकर 4 साल पहले हार्दिक पटेल चर्चा में आए थे. कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के दौरान हार्दिक पटेल कांग्रेस में शामिल हो गए थे. माना जा रहा था कि हार्दिक पटेल गुजरात की जामनगर सीट से चुनाव लड़ सकते हैं. फिलहाल जामनगर से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता पूनमबेन मादम सांसद हैं.

2017 के विधानसभा चुनाव में हार्दिक पटेल ने कांग्रेस के समर्थन में पूरे राज्य में चुनाव प्रचार किया था. तब से कयास लगाए जा रहे थे कि वे पार्टी का दामन थाम सकते हैं लेकिन हार्दिक ने तब सभी संभावनाओं को खारिज कर दिया था.

First Published : 29 Mar 2019, 03:57:47 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.