News Nation Logo

CAA के समर्थन रैली में शामिल हुए छात्र, प्राचार्य को कारण बताओ नोटिस जारी

राजनांदगांव जिले के अंबागढ़ चौकी में 28 फरवरी को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सीएए और एनआरसी के समर्थन में रैली का आयोजन किया था.

Bhasha | Updated on: 03 Mar 2020, 10:10:17 AM
school

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

राजनांदगांव:

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित राजनांदगांव जिले में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के समर्थन में निकली रैली में स्कूली बच्चों के शामिल होने के बाद जिला प्रशासन ने विकासखंड शिक्षा अधिकारी और प्राचार्य को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. राजनांदगांव जिले के अंबागढ़ चौकी में 28 फरवरी को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने सीएए और एनआरसी के समर्थन में रैली का आयोजन किया था. रैली में शासकीय कन्या उच्च माध्यमिक शाला की छात्राएं भी शामिल हुई थी.

यह भी पढ़ें- Birthday Special: जमशेदजी टाटा (Jamsetji Tata) ने देश से जितना लिया, उससे कहीं ज्यादा लौटा दिया, जानें उनका पूरा सफर

छात्र इस रैली में कैसे शामिल हुए

राजनांदगांव के जिला शिक्षा अधिकारी एचआर सोम ने बताया कि जब रैली के बारे में जानकारी मिली तब स्कूल के प्रचार्य और विकासखंड शिक्षा अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. दोनों अधिकारियों के जवाब आने के बाद इस संबंध में आगे कार्रवाई की जाएगी. सोम ने बताया कि राज्य सरकार का निर्देश है कि छात्र ऐसी (राजनीतिक) रैलियों में शामिल नहीं होंगे. इसके बाद भी छात्र इस रैली में कैसे शामिल हुए, इस संबंध में जांच की जाएगी. सीएए के समर्थन में रैली में छात्रों के शामिल होने के बाद जिला शिक्षा अधिकारी ने सभी प्राचार्य और विकासखंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किया है.

यह भी पढ़ें- Holi 2020: कहीं बेरंग न हो जाए आपकी होली, इन टिप्स को अपनाकर रंगों से बचाएं अपनी कार को

किसी भी प्रकार की रैली में शामिल न किया जाए

निर्देश में कहा गया है कि 28 फरवरी को विकास खंड अंबागढ़ चौकी में संशोधित नागरिकता कानून के समर्थन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के बैनर तले रैली निकाली गई थी जिसमें शासकीय कन्या उच्च माध्यमिक शाला की छात्राएं शामिल हुईं, जो अनुचित है. प्राचार्य और विकासखंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि छात्र-छात्राओं को स्कूल शिक्षा विभाग या उच्च कार्यालय के अनुमति के बगैर किसी भी प्रकार की रैली में शामिल न किया जाए. स्कूल शिक्षा विभाग या उच्च कार्यालय के अनुमति के बिना रैली निकाली जाती है तब उनके खिलाफ छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के तहत कड़ी अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी. 

For all the Latest Education News, School News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 03 Mar 2020, 10:10:17 AM

Related Tags:

CAA Students Principal ABVP