News Nation Logo

9 से 12 तक के छात्रों की काउंसलिंग करेगा 'दोस्त फॉर लाइफ' ऐप

सीबीएसई के अनुसार इस ऐप के माध्यम से छात्रों के लिए फ्री लाइव काउंसलिंग सेशन आयोजित किए जाएंगे. लाइव काउंसलिंग के लिए 83 वॉलेंटियर पहले ही जुड़ चुके हैं. इनमें से 66 भारत वॉलेंटियर में हैं.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 08 May 2021, 05:39:35 PM
Dost for Life

9 से 12 तक के छात्रों की काउंसलिंग करेगा 'दोस्त फॉर लाइफ' ऐप (Photo Credit: IANS)

highlights

  • सीबीएसई ने एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया है
  • छात्रों की मानसिक सेहत पर ध्यान देने के लिए बनाया गया
  • इसके माध्यम से छात्रों की टेली काउंसलिंग की जाएगी
  •  

नई दिल्ली:

सीबीएसई ने एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया है. कोरोना महामारी के दौरान कक्षा 9 से 12वीं तक छात्रों की मानसिक सेहत पर ध्यान देने के लिए यह मोबाइल ऐप बनाया गया है. इसके माध्यम से छात्रों की टेली काउंसलिंग की जाएगी. ऐप की मदद से छात्र और अभिभावकों को शिक्षा, स्वास्थ्य व सामाजिक विषयों पर प्रश्नों के उत्तर मिल सकेंगे. सीबीएसई के इस मोबाइल काउंसलिंग ऐप का नाम 'दोस्त फॉर लाइफ' है. सीबीएसई के मुताबिक ऐप का इस्तेमाल छात्रों की साइको-सोशल वेलनेस में सुधार के लिए किया जाना है. सोमवार से यह ऐप छात्रों के लिए पूरी तरह उपलब्ध होगा.

यह भी पढ़ें : इंदिरा गांधी अस्पताल को बनाया गया कोरोना हॉस्पिटल, जानें कितने बेड होंगे इस्तेमाल

फ्री लाइव काउंसलिंग सेशन आयोजित किए जाएंगे
सीबीएसई के अनुसार इस ऐप के माध्यम से छात्रों के लिए फ्री लाइव काउंसलिंग सेशन आयोजित किए जाएंगे. लाइव काउंसलिंग के लिए 83 वॉलेंटियर पहले ही जुड़ चुके हैं. इनमें से 66 भारत वॉलेंटियर में हैं. शेष 17 वॉलेंटियर सउदी अरब, यूएई, नेपाल, ओमान, कुवैत, जापान और यूएसए के हैं. काउंसलिंग सेशन हफ्ते में तीन दिन सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को होगा. काउंसलिंग सुबह नौ बजकर 30 मिनट से लेकर दोपहर 1 बजकर 30 मिनट और 1 बजकर 30 मिनट से लेकर शाम पांच बजकर 30 मिनट तक होगी.

यह भी पढ़ें :आज दिल्ली में 700 MT ऑक्सीजन की ज़रूरत है, आगे के लिए 976 MT की जरूरत होगी : मनीष सिसोदिया

शैक्षणिक, सोशल, इमोशनल और व्यवहार संबंधी सामग्री भी मौजूद होगी
इस काउंसलिंग में शैक्षणिक, सोशल, इमोशनल और व्यवहार संबंधी सामग्री भी मौजूद होगी. इसके जरिए छात्रों की परीक्षा से जुड़ी चिंता, इंटरनेट एडिक्शन डिसऑर्डर, अवसाद और स्पेशिफिक लनिर्ंग डिसएबिलिटी को दूर किया जाएगा. इस एप में कई फीचर होंगे जिनमें से काउंसलिंग सेशन, एक्सपर्ट एडवाइस, बारहवीं के बाद क्या कोर्स करे इसके लिए गाइडेंस, मेंटल स्वास्थ्य संबंधी टिप्स और कोविड-19 संबंधी ऑर्डियो-वीडियो प्रोटोकॉल शामिल हैं.

यह भी पढ़ें :दिल्ली कोरोना: पिछले 24 घंटे में 17364 नए मामले, 332 मौत

सीबीएसई बोर्ड दसवीं के छात्रों को पास होने के लिए एक और मौका देगा
इसके अलावा सीबीएसई बोर्ड दसवीं के छात्रों को पास होने के लिए एक और मौका देगा. 10वीं के छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन और अर्धवार्षिक परीक्षा के आधार पर पास किया जाएगा. इसके बावजूद भी अगर कोई छात्र फेल हो जाता है, तो बोर्ड की तरफ से उसे पास होने के लिए एक और मौका दिया जाएगा. इसके लिए छात्रों को कंपार्टमेंटल की परीक्षा देनी होगी.

 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 May 2021, 05:34:34 PM

For all the Latest Education News, More News News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.