News Nation Logo

DU में टीचर बनने का सुनहरा अवसर, जानिए क्या दिए गए निर्देश

प्रोफेसर हंसराज सुमन ने बताया कि पिछले दिनों विभिन्न विभागों व कॉलेजों में गेस्ट टीचर्स के पद निकाले गए थे. इसको लेकर डीटीए ने एससी एसटी कमीशन व राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग में भी शिकायत की थीं.

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 28 Jan 2022, 02:28:51 PM
Delhi University

Delhi University (Photo Credit: File)

highlights

  • डीयू ने सभी संबद्ध कॉलेजों के प्रिंसिपल्स को एक सर्कुलर जारी किया
  • डीयू के असिस्टेंट रजिस्ट्रार ( कॉलेज ) ने यह सर्कुलर जारी किया
  • आरक्षण देने के दिए गए निर्देश, जल्द स्थायी नियुक्ति करने को कहा 


 

दिल्ली:  

Recuritment in Delhi university : दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) ने सभी संबद्ध कॉलेजों के प्रिंसिपल्स को एक सर्कुलर जारी किया है. डीयू के असिस्टेंट रजिस्ट्रार ( कॉलेज ) ने यह सर्कुलर जारी करते हुए टीचर्स के स्वीकृत पदों पर आरक्षण देने के निर्देश दिए हैं. साथ ही सर्कुलर में डीयू प्रशासन ने कॉलेजों के प्रिंसिपल्स को निर्देश दिया है कि विश्वविद्यालय नियमों के अनुसार जल्द ही स्थायी नियुक्ति की जाए. इसके लिए शिक्षक संगठनों ने दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन को पत्र लिखा था. सर्कुलर में डीयू प्रशासन ने कॉलेजों के प्राचार्यों को निर्देश दिया है कि विश्वविद्यालय नियमों के अनुसार जल्द ही स्थायी नियुक्ति की जाए. जब तक कॉलेजों में स्थायी नियुक्ति न हो तब तक एडहॉक टीचर्स की नियुक्ति की प्रक्रिया जारी रहे.

यह भी पढ़ें : भारतीय नौसेना में 50 एसएससी अधिकारी के पदों पर आवेदन मांगे, ऐसे करें अप्लाई

रिजर्वेशन रोस्टर लागू करने को कहा

उनका यह भी कहना है कि यूजीसी गाइडलाइंस के क्लॉज-2 के तहत गेस्ट टीचर्स की नियुक्तियों में रिजर्वेशन रोस्टर को लागू करते हुए नियुक्तियां की जाए. इसके लिए डूटा अध्यक्ष डॉ. अजय भागी ने विश्वविद्यालय प्रशासन से मांग करते हुए कहा था कि इससे सामाजिक न्याय के सिद्धांत को बल मिलेगा. अभी तक कॉलेज इन स्वीकृत पदों पर बिना आरक्षण दिए गेस्ट टीचर्स लगा रहे थे. अधिकांश कॉलेज बिना रिजर्वेशन रोस्टर के गेस्ट टीचर्स लगा रहे थे. प्रोफेसर हंसराज सुमन ने बताया कि पिछले दिनों विभिन्न विभागों व कॉलेजों में गेस्ट टीचर्स के पद निकाले गए थे. इसको लेकर डीटीए ने एससी एसटी कमीशन व राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग में भी शिकायत की थीं. इसे आयोग ने भी संज्ञान लिया था और विश्वविद्यालय प्रशासन को लिखा था.

इस सर्कुलर के बाद गेस्ट टीचर्स नहीं पढ़ा पाएंगे

डीयू प्रशासन द्वारा इस सर्कुलर के जारी होने के बाद से प्रिंसिपल अब स्थायी और एडहॉक स्वीकृत पदों को गेस्ट टीचर्स में तब्दील नहीं कर पाएंगे. इस सर्कुलर के बाद ओबीसी सेकंड ट्रांच के पदों को भी भरा जा सकेगा क्योंकि कॉलेजों ने लंबे समय तक न तो स्थायी नियुक्ति ही की और न ही एडहॉक टीचर्स ही लगाए.

First Published : 28 Jan 2022, 02:28:51 PM

For all the Latest Education News, Jobs News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.