News Nation Logo
Banner

UGC और AICTE ने भारतीय छात्रों के लिए जारी किया परामर्श, पाकिस्तान में पढ़ने न जाएं

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) ने शुक्रवार को भारतीय छात्रों के लिए बड़ी हिदायत जारी की है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 22 Apr 2022, 09:40:45 PM
UGC

भारतीय छात्रों के लिए जारी किया परामर्श (Photo Credit: file photo)

highlights

  • उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए पाकिस्तान की यात्रा न करें
  • भारत में रोजगार या उच्च अध्ययन प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं होगा

नई दिल्ली:  

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) ने शुक्रवार को भारतीय छात्रों के लिए बड़ी हिदायत जारी की है. एक संयुक्त परामर्श जारी करते हुए छात्रों से कहा गया है कि वे पाकिस्तान के किसी भी कॉलेज या  शैक्षणिक संस्थान में प्रवेश न लें, नहीं तो वे भारत में नौकरी करने या देश में उच्च शिक्षा  प्राप्त करने जैसे आवेदन के पात्र नहीं होंगे. यूजीसी और एआईसीटीई की एडवाइजरी में कहा गया है, “सभी भारतीय छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए पाकिस्तान की यात्रा न करें. अगर भारत का कोई भी नागरिक/प्रवासी नागरिक जो पाकिस्तान के किसी भी डिग्री कॉलेज/शैक्षणिक संस्थान में प्रवेश लेना चाहता है तो पाकिस्तान में प्राप्त शैक्षिक योग्यता (किसी भी विषय में) के आधार पर भारत में रोजगार या उच्च अध्ययन प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं होगा."

हालांकि, उन्होंने यह स्पष्ट किया है कि जो लोग पाकिस्तान से भारत आए हैं, उन्हें छूट दी जाएगी. एडवाइजरी में कहा गया है, "प्रवासी और उनके बच्चे जिन्होंने पाकिस्तान में उच्च शिक्षा की डिग्री पाई है और जिन्हें भारत द्वारा नागरिकता प्रदान की गई है, वे गृह मंत्रालय से सुरक्षा मंजूरी प्राप्त करने के बाद भारत में रोजगार पाने के पात्र होंगे."

गौरतलब है कि बीते माह यूजीसी और एआईसीटीई दोनों ने एक संयुक्त एडवाइजरी जारी कर चीन के विश्वविद्यालयों में प्रवेश नहीं लेने को कहा था. यह एडवाइजरी चीनी सरकार द्वारा कोरोना महामारी के मद्देनजर लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के तहत आई थी.

 

First Published : 22 Apr 2022, 09:35:49 PM

For all the Latest Education News, Higher Studies News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.