logo-image
लोकसभा चुनाव

NEET-UG Row: नीट एग्जाम विवाद पर सुप्रीम कोर्ट से राहत के बाद शिक्षा मंत्री धमेंद्र प्रधान का बड़ा बयान, जानें क्या कहा

NEET-UG Row: नीट एग्जाम विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के बीच देश के केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का रिएक्शन आया सामने, जिम्मेदारों को लेकर कही बड़ी बात.

Updated on: 13 Jun 2024, 02:14 PM

New Delhi:

NEET-UG Row: नेशन एलिजिबिलिटी एंट्रेन्स टेस्ट (NEET) को लेकर उठे विवाद के बीच गुरुवार 13 जून को देश की सर्वोच्च अदालत से एक बड़ी राहत की खबर सामने आई. ये राहत उन स्टूडेंट्स के लिए रही जिन्हें ग्रेस मार्क्स मिले थे. दरअसल कोर्ट ने साफ कर दिया कि जिन स्टूडेंट्स को गेर्स मार्क्स मिले थे उन्हें दोबारा एग्जाम देना होगी. इस एग्जाम में कुल 1563 स्टूडेंट्स हिस्सा लेंगे. सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस विक्रम नाथ और जस्टिस संदीप मेहता की बेंच ने इस मामले पर सुनवाई की. इस मामले में अगली सुनवाई 8 जुलाई को होगी, वहीं ग्रेस मार्क्स वाले स्टूडेंट्स की री-नीट 23 जून को संभावित है. इस बीच सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई और री-नीट को लेकर केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का भी बड़ा बयान सामने आया है. 

यह भी पढ़ें - NEET 2024: दोबारा एग्जाम देंगे ग्रेस मार्क्स वाले 1563 स्टूडेंट्स, NTA ने सुप्रीम कोर्ट में दी जानकारी

NEET विवाद के बीच क्या बोले शिक्षा मंत्री

NEET-UG विवाद के बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का भी बयान सामने आया है. सुप्रीम कोर्ट में चल सुनवाई के बीच  शिक्षा मंत्री ने कहा है कि नीट एग्जाम में कोई भी भ्रष्टाचार नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि, नीट एग्जाम में हर वर्ष 24 लाख स्टूडेंट्स हिस्सा लेते हैं. मामला कोर्ट में चल रहा है और 1500 से ज्यादा स्टूडेंट्स के करियर से जुड़ा है, ऐसे में सरकार पूरी तरह इस मामले पर कोर्ट को जवाब देने के लिए तैयार है. 

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि इस अहम मुद्दे पर लगातार विचार किया जा रहा है और शिक्षाविदों की समिति भी बनाई गई है जो इस पर अपने विचार और क्या कुछ हो सकता है इसको लेकर मंथन कर रही है. उनके सुझावों को माननीय अदालत के सामने पेश किया जाएगा. 

यह भी पढें - NEET 2024: ग्रेस मार्क्स पाने वाले 1563 स्टूडेंट्स को फिर एग्जाम देने का मिला मौका, जानें क्या है पूरा मामला

दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

शिक्षा मंत्री प्रधान ने यह भी कहा कि इस मामले में जो भी जिम्मेदार होंगे या फिर दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. हालांकि उन्होंने इसमें किसी भी तरह के भ्रष्टाचार से साफ इंकार कर दिया. बता दें कि NTA देश में तीन प्रमुख एग्जाम NEET, JEE और CUET का सफलतापूर्व आयोजन करता है.