News Nation Logo
Banner

JEE-NEET एग्जाम की नई तारीख 5 मई को होगी घोषित, एचआरडी मंत्रालय ने बताया

देश के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के इच्छुक छात्रों को राहत देते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय ने रविवार को कहा कि पांच मई को जेईई और नीट परीक्षाओं की नयी तारीख घोषित की जाएगी.

Bhasha | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 03 May 2020, 09:32:56 PM
demo photo

JEE. NEET एग्जाम की नई तारीख 5 मई को होगी घोषित (Photo Credit: प्रतिकात्मक फोटो)

दिल्ली:  

देश के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के इच्छुक छात्रों को राहत देते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय ने रविवार को कहा कि पांच मई को जेईई (JEE) और नीट (NEET) परीक्षाओं की नयी तारीख घोषित की जाएगी. ये परीक्षाएं कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की वजह से स्थगित कर दी गई थी.

मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि  नयी तारीखों की घोषणा पांच मई को मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ करेंगे. इससे उम्मीदवारों की अनिश्चितता खत्म होगी' उसी दिन मंत्री छात्रों से ऑनलाइन संवाद करेंगे''उल्लेखनीय है कि संयुक्त प्रवेश परीक्षा- मुख्य (जेईई-मेंस) का आयोजन देशभर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए होता है जबकि राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) के जरिये देशभर के चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रवेश लिया जाता है.

इसे भी पढ़ें:किसानों के लिए खुशखबरी! सरकार की इन योजनाओं से मिलेंगे 31 हजार रुपए

15 लाख बच्चे देंगे नीट एग्जाम 

देश भर में 15 लाख से अधिक छात्रों ने नीट (NEET) परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया है. यह परीक्षा भारत के चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रवेश पाने का रास्ता है. वहीं नौ लाख से अधिक छात्रों ने जेईई-मेंस परीक्षा के लिए आवेदन किया है जिसके जरिये भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आईआईटी)को छोड़कर देश के अन्य सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश होता है.

16 मार्च से सभी स्कूल-कॉलेज बंद है

जेईई-मेंस को जेईई-एडवांस परीक्षा के लिए अर्हता माना जाता है जिसके जरिये आईआईटी की परीक्षा होती है. मानव संसाधन विकास मंत्रालय की राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने छात्रों को दोनों परीक्षाओं के लिए पहले चुने गए परीक्षा केंद्रों में बदलाव करने का भी विकल्प दिया है क्योंकि लॉकडाउन के बाद से छात्र विभिन्न स्थानों पर गए हैं. उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने कक्षाओं को बंद करने का आदेश दिया जिसके बाद 16 मार्च से देशभर के विश्वविद्यालय और स्कूल बंद हैं.

और पढ़ें:महाराष्ट्र में भी शराब समेत ये खुलेंगी दुकानें, जानें किस जोन में क्या मिलेंगी छूट और क्या रहेंगे बंद

लॉकडाउन बढ़ाकर 17 मार्च कर दी गई है

वहीं 25 मार्च को राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की गई जिसे दो बार बढ़ाकर अब 17 मई तक कर दिया गया है.हालांकि, अभी तक स्पष्ट नहीं है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा 10वीं और 12वीं की लंबित परीक्षाएं कब कराई जाएंगी. बोर्ड ने घोषणा की थी कि वह लंबित 29 विषयों की परीक्षाएं कराएगा क्योंकि कक्षा में उत्तीर्ण होने और उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए यह महत्वपूर्ण है.

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस से रविवार तक 39,980 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है जबकि 1,301 लोगों की कोविड-19 से मौत हुई है' 

First Published : 03 May 2020, 09:25:01 PM

For all the Latest Education News, Entrance Exams News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.