News Nation Logo
कोविड के खिलाफ लड़ाई में भी भारत और रूस के बीच सहयोग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में 85 फीसदी पात्र आबादी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है: मनसुख मंडाविया दिल्ली में इस साल डेंगू से अब तक 15 मरीजों की मौत बीते 6 साल में डेंगू से मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा शाही ईदगाह मस्जिद की जगह पर भव्य श्रीकृष्ण मंदिर के निर्माण के लिए संकल्प यज्ञ किया गया ओमिक्रोन के अलर्ट के बीच पटना में 100 विदेशियों की तलाश भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की

Career Guidance: अपनी आवाज के जादू से करें लोगों को दीवाना, ऐसे बनाएं Radio Jockey में सफल करियर

प्राइवेट FM चैनलों के आ जाने से रेडियो जॉकी के करियर में काफी बूम आया है और इसकी डिमांड बढी है.

Vikas Kumar | Edited By : Vikas Kumar | Updated on: 08 Mar 2019, 05:30:39 AM
ऐसे बनें रेडियो जॉकी के मास्टर

नई दिल्ली:

रेडियो एक ऐसा साधन है जो मास मीडिया के किसी भी मीडियम में सबसे ज्यादा पहुंच रखता है और ये एंटरटेनमेंट का सबसे सस्ता साधन भी है. रेडियो की सबसे बड़ी विशेषता है कि यह हमारे हर काम के बैकग्राउंड में चल सकता है और लोगों को इससे ज्यादा डिस्टर्बेंस भी नही होता है. चाय की दुकानों पर खासकर के रेडियो का बड़ा ही रोल बन जाता है. आजकल तो रेडियो मोबाइल फोन में आ जाने से इसकी पहुंच इतनी ज्यादा हो गई है कि लगभग 10 में से 6-7 लोग तो रोज रेडियो सुनते ही होंगे. पहले तो आपको बड़े ही प्रोफेशनल तरीके से अनाउंसमेंट सुनने को मिलते थे लेकिन FM के आ जाने से इसमें ज्यादा फंकीनेस आ गई है. तो क्या कभी आपने ये सोचा कि आपके मन पसंद गाने को बजाने वाले कैसे होते होंगे जो अपनी आवाज के जादू से लोगों को दीवाना बना देते हैं. प्राइवेट FM चैनलों के आ जाने से रेडियो जॉकी के करियर में काफी बूम आया है और इसकी डिमांड बढी है.

यह भी पढ़ें: अच्छे Resume में होनी चाहिए ये खास बातें, आज ही जान लीजिए

स्किल
रेडियो जॉकी बनने के लिए कुछ खास स्किल्स की जरुरत होती है -

  • आपके अंदर स्टोरी टैलिंग टैक्नीक होनी चाहिए. आप एक छोटी सी ही सही लेकिन स्टोरी को इतने मजे से बताना आना चाहिए कि आप लोगों को अपनी बातों में बांध सकें.
  • आपकी कम्युनिकेशन स्किल भी कमाल का होना चाहिए ताकि आप किसी भी बात को अपने हिसाब से बता सकें. जिसमें आपके प्रजेंस ऑफ माइंड का भी एक बहुत बड़ा रोल होता है.
  • बातें तो सभी कर लेते है लेकिन आपको अपना एक अलग ही अंदाज डेवलप करना होगा क्योंकि नार्मल अंदाज से अगर आप लोगों के पास जाएंगे तो शायद कुछ दिन बाद लोग आपको भूल जाएं लेकिन अगर आपने अपना अलग अंदाज डेवलप किया है तो लोग आपके बोलने के अंदाज से ही आपको याद रखेंगे.
  • आपका फनी होना तो बहुत ही जरूरी है क्योंकि रेडियो पर आपके फन ही लोगों को गुदगुदाते हैं और सुनने वाले आपको पसंद करने लगते हैं.
  • आपको शहर भर के साथ देश-विदेश में हो रहे सारे इवेंट की जानकारी होनी चाहिए.
  • आपको एक अच्छा राइटर भी होना चाहिए क्योंकि अगर आपको रेडियो शो लिखने और प्लान करने आएगा उतना ही आपके इस इंडस्ट्री में आगें बढ़ने के चांसेस बढ़ेगे.
  • कोशिश करें कि किसी दूसरे की स्टाइल को कॉपी न करें बल्कि खुद का नया स्टाइल बनाएं.

रेडियो जॉकी का काम


रेडियो जॉकी को शो प्रेजेंट करन, स्क्रिप्ट लिखना, म्यूजिक प्रोग्रामिंग और रेडियो एडवाइजर बनने का काम करना होता है. साथ ही आपको अपने ऑडियो सॉफ्टवेयर की भी जानकारी होनी चाहिए. इसके अलावा आपको इंटरव्यू वगैरह भी लेना और देश-दुनिया में चल रहे बड़े मुद्दों पर लोगों को जानकारी भी देनी होती है. इसके साथ ही लोगों को उनके मन पसंद सांग सुनाने के लिए समां भी बांधना होता है.

यह भी पढ़ें: Career: अगर बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेट अंपायर तो ये है तरीका

योग्यता


रेडियो जॉकी का कोर्स करने के लिए आपको कम से कम 10+2 पास होना चाहिए. जिसके बाद आप किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से डिग्री या डिप्लोमा का कोर्स भी कर सकते है. आज कल तो देश भर में तमाम ऐसे संस्थान हैं जो रेडियो जॉकी में प्रोफेशनल डिग्री और डिप्लोमा कोर्सेस कराते हैं.
कमाई
रेडियो जॉकी में असल में कमाई आपकी पॉपुलैरिटी के ऊपर निर्भर करती है. फिर भी शुरुआत में 10 से 15 हजार तक की नौकरी मिल जाती है. जैसे-जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ेगा, उतना ही आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी.

कौन-कौन से हैं कोर्सेस

  • डिप्लोमा इन रेडियो प्रोग्रामिंग व ब्रॉडकास्ट मैनेजमेंट.
  • डिप्लोमा इन रेडियो प्रोडक्शन व रेडियो जॉकी.
  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन रेडियो एंड ब्रॉडकास्ट मैनेजमेंट.
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन रेडियो जॉकिंग.

यहां से कर सकते हैं कोर्सेस

  • मीडिया एंड फिल्म इंस्टीच्यूट ऑफ इंडिया, मुंबई
  • करियर फेम, कोलकाता
  • सेंटर फॉर रिसर्च इन आर्ट ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन, नई दिल्ली
  • इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ मॉस कम्युनिकेशन, नई दिल्ली
  • मुद्रा इंस्टीच्यूट ऑफ मॉस कम्युनिकेशन, अहमदाबाद
  • एजेके एमसीआरसी जामिया, मिलिया, इस्लामिया, नई दिल्ली

First Published : 07 Mar 2019, 11:59:14 AM

For all the Latest Education News, Career News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.