News Nation Logo
Banner

पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी को नहीं दी जा रही परीक्षा देने की इजाजत

दमी कोहली नाम की हिंदू शरणार्थी कुछ ही साल पहले पाकिस्तान के सिंध प्रांत से भारत आई थीं.

News Nation Bureau | Edited By : Vikas Kumar | Updated on: 02 Jan 2020, 10:54:11 AM
पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी लड़की को नहीं दी जा रही परीक्षा देने की इजाज

पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी लड़की को नहीं दी जा रही परीक्षा देने की इजाज (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • एक पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी (Pakistani Hindu Refugee) पाकिस्तानी होने का खामियाजा भुगतना पड़ा. 
  • शरणार्थी लड़की दमी कोहली को राजस्थान शिक्षा बोर्ड ने कथित तौर पर परीक्षा फार्म भरने देने से मना कर दिया. 
  • दमी ने 10वीं तक पाकिस्तान में ही पढ़ाई की है और अब 12वीं की परीक्षा पास करना चाहती है.

जयपुर:  

एक पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी (Pakistani Hindu Refugee) पाकिस्तानी होने का खामियाजा भुगतना पड़ा. शरणार्थी लड़की दमी कोहली को राजस्थान शिक्षा बोर्ड ने कथित तौर पर परीक्षा फार्म भरने देने से मना कर दिया. बताया जा रहा है कि उससे बोर्ड ने पहले योग्यता प्रमाण पत्र मांगा है. घटना के सामने आने के बाद इस मामले ने खाासा तूल पकड़ा है. दमी कोहली नाम की ये पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी 12वीं कक्षा की छात्रा है. हालांकि बाद में प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि परीक्षा के नियमों में बदलाव के बावजूद लड़की को परीक्षा देने की अनुमति दी जाएगी.

Media Reports के अनुसार, दमी कोहली कुछ ही साल पहले पाकिस्तान के सिंध प्रांत से भारत आई थीं. बताया जा रहा है कि दमी को भारत का रुख इसलिए करना पड़ा था क्योंकि पाकिस्तान में उन्हें धार्मिक प्रताड़ना का सामना करना पड़ रहा था.

यह भी पढ़ें: CAA प्रदर्शन : वाराणसी में 57 को मिली जमानत, घर लौटे दुधमुही बच्ची के माता पिता

दमी ने 10वीं तक पाकिस्तान में ही पढ़ाई की है और अब 12वीं की परीक्षा पास करना चाहती है. दमी कोहली जोधपुर से सटे आंगनवा रिफ्यूजी कैंप में रहती है. इसी जगह उसने एक स्कूल में 11वीं में एडमिशन लिया था.

दमी कोहली ने समाचार एजेंसी एएनआई को जानकारी दी कि 2018 में मैंने स्कूल में एडमिशन लिया. मैंने साल भर पढ़ाई की और 11वीं की परीक्षा पास की. मेरे पास मार्क्स शीट भी है. अगली बोर्ड परीक्षा में महज एक महीने बचे हैं और मुझे नोटिस देकर बताया गया है कि परीक्षा में शामिल होने की इजाजत नहीं मिलेगी. लड़की ने कहा, उसने स्कूल को सभी प्रूफ दिए हैं और उसे शिक्षा का अधिकार मिलना चाहिए. इस घटना के प्रकाश में आने के बाद शिक्षा मंत्री डोटासरा ने पाकिस्तानी दूतावास को एक पत्र भेजकर लड़की के सिलेबस की पूरी जानकारी मांगी है. शिक्षा मंत्री की ओर से बताया गया है कि हमने पाकिस्तानी दूतावास को एक पत्र भेजकर उसके सिलेबस की जानकारी मांगी है. हमलोग राजस्थान और वहां के सिलेबस को मिला रहे हैं.

यह भी पढ़ें: बसपा सुप्रीमो का प्रियंका पर निशाना, कहा- 'राजस्थान भी जाएँ जहां 100 बच्चों की मौत हुई'

शिक्षा मंत्री डोटासरा ने कहा, 'अगर हमें उनसे (पाकिस्तान) सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलती तो लड़की को परीक्षा की इजाजत जरूर दी जाएगी. अगर पाकिस्तान ने कुछ नहीं भी बताया तो हम नियमों में बदलाव कर उसे परीक्षा देने की अनुमति देंगे.'

First Published : 02 Jan 2020, 10:53:39 AM

For all the Latest Education News, Board Exams News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.