News Nation Logo
Banner

मंगलवार को शिक्षा मंत्रालय घोषित कर सकता है बोर्ड परीक्षाओं की तारीख

22 दिसंबर को केंद्रीय शिक्षा मंत्री देशभर के शिक्षकों के साथ सीधा संवाद स्थापित करेंगे. इस दौरान अगले वर्ष होने वाली बोर्ड परीक्षाओं की तिथियां भी घोषित की जा सकती हैं.

By : Nihar Saxena | Updated on: 21 Dec 2020, 11:02:01 AM
CBSE Board Exams

कोरोना संक्रमण के बावजूद पेन-कागज पर होंगी सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

अगले वर्ष होने वाली 10वीं एवं 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं के कार्यक्रम की जानकारी जल्द ही सार्वजनिक की जाएगी. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक मंगलवार को बोर्ड परीक्षाओं की तिथि को लेकर महत्वपूर्ण घोषणा कर सकते हैं. 22 दिसंबर को केंद्रीय शिक्षा मंत्री देशभर के शिक्षकों के साथ सीधा संवाद स्थापित करेंगे. इस दौरान अगले वर्ष होने वाली बोर्ड परीक्षाओं की तिथियां भी घोषित की जा सकती हैं. कोविड महामारी के बीच समय पर परीक्षाओं के संचालन के लिए सरकार ने नई पहल की है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने परीक्षाओं के संचालन के पूर्व छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ त्रिस्तरीय संवाद की योजना बनाई है. शिक्षा मंत्री डॉ निशंक तीन अलग अलग तिथियों पर छात्रों, अभिभावकों, शिक्षकों के साथ वेबिनार के जरिए सीधे संवाद कर रहे हैं.

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन यानी सीबीएसई, बोर्ड की परीक्षाएं ऑनलाइन नहीं होंगी. 2021 में होने वाली यह परीक्षा छात्रों को पहले की तरह कागज-पेन से ही देनी होगी. सीबीएसई अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि बोर्ड परीक्षाओं को ऑनलाइन करवाने का कोई प्रस्ताव ही नहीं है. ये परीक्षाएं बीते वर्षों की तरह सामान्य लिखित रूप में ली जाएंगी. हालांकि इसकी डेट अभी तय नहीं हुई है. शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक विद्यार्थियों की प्रगति एवं बेहतर भविष्य सुनिश्चित करने के लिए परीक्षाओं का आयोजन बेहद जरूरी है.

इस साल परीक्षाओं के आयोजन को लेकर छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के बीच तमाम तरह की चर्चाएं हो रही है. अब तक कोविड के चलते देशभर के स्कूल कॉलेज पूरी तरह से नहीं खोले जा सके हैं. बोर्ड परीक्षाओं के रजिस्ट्रेशन से लेकर कक्षा संचालन तक सारे कार्य वर्चुअल या ऑनलाइन तरीके से संचालित हो रहे हैं. इससे पहले निशंक ने कहा, लगातार स्कूल कॉलेज से दूर रह रहे छात्रों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई करना एक बड़ी चुनौती है, लेकिन इस चुनौती को अवसर में बदलने के लिए छात्रों को हमेशा तैयार रहना चाहिए.

उन्होंने कहा, बेहतर संकल्प और इच्छाशक्ति के साथ पढ़ाई और समय पर रिजल्ट जारी करवाना सबसे बड़ी चुनौती है ताकि छात्रों का एक साल बर्बाद न हो. कोरोना नियमों का पालन करते हुए इन परीक्षाओं के आयोजन से छात्रों की योग्यता, विश्वसनीयता और विश्व के किसी भी विश्वविद्यालय में प्रवेश की स्वीकार्यता और बेहतर भविष्य-निर्माण की संभावनाओं के द्वार खुलेंगे.

इस वर्चुअल संवाद के बाद शिक्षा मंत्री राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में आयोजित होने वाली परीक्षाओं की समीक्षा करेंगे. इस प्रकार स्वास्थ्य मंत्रालय, गृह मंत्रालय के आदेशों के अनुसार परीक्षाओं के संचालन की विस्तृत योजना बनाई जाएगी. सरकार की पूरी कोशिश होगी कि परीक्षाओं के संचालन में छात्रों का समय बेकार न बर्बाद हो. साथ ही विदेशों में पढ़ाई करने वाले छात्रों को लेकर सरकार पूरी निगरानी रखेगी.

First Published : 21 Dec 2020, 11:02:01 AM

For all the Latest Education News, Board Exams News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.