News Nation Logo

पत्नी हत्या कर शव के किए छह टुकड़े, बिजली के बिल और जींस ने खोला राज

आरोपी पति नेपाल भागने की फिराक में था लेकिन बिजली के एक बिल और जींस ने आरोपी का राज खोल दिया. जिसके बाद तार जोड़ेते-जोड़ते पुलिस आरोपी पति तक पहुंच गई.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 17 Aug 2020, 10:54:59 AM
Murder

पत्नी हत्या कर शव के किए छह टुकड़े, बिजली के बिल और जींस ने खोला राज (Photo Credit: प्रतीकात्मक फोटो)

बाराबंकी:

एक शख्स ने अपनी पत्नी की हत्या कर उसके शव के छह टुकड़े कर दिए. उसने पत्नी के शव को एक सूटकेस में रखकर ठिकाने लगा दिया. उसे यकीन था कि पुलिस उस तक नहीं पहुंच पाएगी. आरोपी पति नेपाल भागने की फिराक में था लेकिन बिजली के एक बिल और जींस ने आरोपी का राज खोल दिया. जिसके बाद तार जोड़ेते-जोड़ते पुलिस आरोपी पति तक पहुंच गई. एसपी ने राजफाश करने वाली टीम को 25 हजार रुपये का पुरस्कार दिया है.

यह भी पढ़ेंः नेपाल को था चीन का यह डर, इसलिए ओली ने की PM मोदी से बात?

क्या है मामला
बीते दिनों लखनऊ-अयोध्या हाईवे पर कोतवाली नगर क्षेत्र में सफेदाबाद स्थित केवाड़ी मोड़ के पास ब्रीफकेस और बैग में छह टुकड़ों में एक महिला का शव मिला था. इसकी शिनाख्त मुंबई के अंबेडकरनगर टाटा वसहत मार्ग भारतनगर निवासी बादशाह शेख की पुत्री मालन बादशाह शेख उर्फ आयशा के रूप में हुई थी. आयशा की हत्या पांच जुलाई को आपसी विवाद के बाद लखनऊ के इंदिरा नगर थाना क्षेत्र में सेक्टर 14 में रह रहे उसके पति समीर खान ने लोहे की रॉड से की थी. समीर बलरामपुर के महराजगंज थाना क्षेत्र के गुलरिहा का रहने वाला है. समीर मुंबई के बांद्रा क्षेत्र में एक चिकन शॉप में काम करता था और लॉकडाउन के दौरान मार्च में लखनऊ लौटा था. आयशा की मौत के बाद समीर बाजार से चापड़ और शव को पैक करने के लिए अन्य सामग्री खरीदकर लाया. उसी रात पत्नी को छह टुकड़ों में काटकर ब्रीफकेस और बैग में भरकर कार से ले जाकर फेंक दिया.

यह भी पढ़ेंः कोरोना संकट के बीच मानसून सत्र बनाएगा अनोखा रिकॉर्ड

बिजली के बिल और जींस ने खोला राज
बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक डॉ अरविंद चतुर्वेदी ने बताया कि जिस ब्रीफकेस में महिला का शव मिला था, उसमें पुलिस को दो अहम सुराग मिले. पहला सुरागा था, बैग में रखी आरोपी की जींस. जिसमें लखनऊ के पार्क के दो टिकट थे. दूसरा अहम सुराग था बैग की चेन में रखा बिजली का बिल. यह बिल इतना पुराना था कि उसमें कुछ ही नंबर दिख रहे थे. जिके बाद पुलिस ने इन्हीं दो सबूतों के आधार पर अपनी पुलिस ने पड़ताल शुरू की. यह बिल एक महिला के नाम था. पुलिस जब इस महिला तक पहुंची तो उसने बताया कि वह मकान उसने समीर को बेचा हुआ है. यहीं से पुलिस को समीर का नंबर मिला. जिसके बाद पुलिस ने समीर की मोबाइल डिटेल खंगाली तो उसकी लोकेशन की भी पुष्टि हुई. हालांकि आरोपी ने उस मोबाइल को बंद कर दिया था. जिसके बाद पुलिस ने सर्विलांस सेल की मदद ली. यहां से आरोपी का नया नंबर मिला. इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. एसपी ने बताया आरोपी समीर खान नेपाल भागने की जुगत में था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Aug 2020, 10:54:59 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.