News Nation Logo
Banner

क्रशर व्यवसायी की मौत के मामले में फरार पुलिस अधीक्षक 25 हजार का इनाम

पाटीदार और यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमें लगातार उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही हैं, लेकिन अभी सफलता नहीं मिली है. एडीजी ने बताया कि इसी मामले में बर्खास्त किये गए कबरई थाने के पूर्व थानाध्यक्ष देवेन्द्र कुमार शुक्ला को 25 नवंबर (बुधवार

Written By : अविनाश सिंह | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 29 Nov 2020, 11:37:58 PM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल )

महोबा:

उत्तर प्रदेश के महोबा जिले के कबरई कस्बे के क्रशर व्यवसायी इन्द्रकांत त्रिपाठी की संदिग्ध मौत मामले में फरार चल रहे भारतीय पुलिस सेवा के निलंबित अधिकारी और महोबा के पूर्व पुलिस अधीक्षक मणिलाल पाटीदार और बर्खास्त सिपाही अरुण यादव पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है. पुलिस के एक शीर्ष अधिकारी ने इसकी जानकारी दी.

प्रयागराज परिक्षेत्र के अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) प्रेम प्रकाश ने रविवार देर शाम मीडिया से की गई बातचीत में बताया, कबरई के क्रशर व्यवसायी इन्द्रकांत त्रिपाठी की आत्महत्या और भ्रष्टाचार के मामले में फरार चल रहे महोबा के निलंबित पूर्व पुलिस अधीक्षक मणिलाल पाटीदार और बर्खास्त सिपाही अरुण कुमार यादव की गिरफ्तारी के लिए उन पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है.

उन्होंने बताया कि पाटीदार और यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमें लगातार उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही हैं, लेकिन अभी सफलता नहीं मिली है. एडीजी ने बताया कि इसी मामले में बर्खास्त किये गए कबरई थाने के पूर्व थानाध्यक्ष देवेन्द्र कुमार शुक्ला को 25 नवंबर (बुधवार) को महोबा पुलिस अजहर क्षेत्र से गिरफ्तार कर चुकी है. 

गौरतलब है कि त्रिपाठी ने आठ सितंबर को पाटीदार के खिलाफ छह लाख रुपये की रिश्वत मांगने और उनसे अपनी जान का खतरा बताते हुये एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल किया था जिसके कुछ घंटे बाद ही संदिग्ध परिस्थिति में गोली लगने से वह घायल मिले थे, जिनकी कानपुर की रीजेंसी अस्पताल में 13 सितंबर को मौत हो गयी थी. इसके बाद उनके बड़े भाई ने पाटीदार एवं अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कराया था . 

First Published : 29 Nov 2020, 11:37:58 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.