News Nation Logo

मुजफ्फरपुर बालिका आश्रय गृह रेप मामले पर संकट में तेजस्वी, नीतीश के मंत्री ने दायर किया अवमानना केस

28 जुलाई को तेजस्वी को गलत बयानबाजी के लिए कानूनी नोटिस भेजा गया था, लेकिन उन्होंने इसका कोई जवाब नहीं दिया।

IANS | Updated on: 27 Aug 2018, 06:36:21 AM
बिहार के नगर विकास व आवास मंत्री सुरेश शर्मा

बिहार के नगर विकास व आवास मंत्री सुरेश शर्मा

नई दिल्ली:

मुजफ्फरपुर बालिका आश्रयगृह में यौन शोषण के मामले में नाम घसीटे जाने पर बिहार के नगर विकास व आवास मंत्री सुरेश शर्मा ने विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के खिलाफ बिहार की एक अदालत में शिकायत पत्र दायर किया है। 

मुजफ्फरपुर व्यवहार न्यायालय के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी हरि प्रसाद की अदालत में दायर इस परिवाद पत्र में स्थानीय विधायक और मंत्री शर्मा ने कहा है कि मुजफ्फरपुर बालिका आश्रय गृह मामले से उनका दूर-दूर तक कोई संबंध नहीं है। इसके बावजूद, तेजस्वी यादव राजनीतिक वैमनस्यता के कारण इस संबंध में लगातार गलत बयानबाजी कर रहे हैं। इससे उनकी राजनीतिक व सामाजिक प्रतिष्ठा धूमिल हो रही है। 

और पढ़ें: TISS Report: बिहार के लगभग सभी शेल्टर होम्स में हिंसा और यौन शोषण 

मंत्री के अधिवक्ता अरविंद कुमार ने शनिवार को बताया, 'इस मामले की सुनवाई 29 अगस्त को होगी। उन्होंने बताया कि 28 जुलाई को तेजस्वी को गलत बयानबाजी के लिए कानूनी नोटिस भेजा गया था, लेकिन उन्होंने इसका कोई जवाब नहीं दिया। उल्टे वे लगातार बयानबाजी कर रहे हैं।'

और पढ़ें: मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस: ब्रजेश ठाकुर के साथ नाम आने पर तेजस्वी ने मांगा बिहार के एक और मंत्री का इस्तीफा 

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव ने सुरेश शर्मा पर आश्रय गृह की 34 लड़कियों के यौन शोषण के मामले में मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के साथ संबंध होने का आरोप लगाया था। तेजस्वी ने इस मामले में मंत्री के इस्तीफे की भी मांग की थी।

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 25 Aug 2018, 12:53:05 PM