News Nation Logo
Banner

जिस युवक ने बुआ का कन्यादान किया, उसी फूफा ने युवक के बेटे का सौदा कर दिया

वीरेंद्र के फूफा यतवीर व इसका दोस्त हसमत की मोबाइल ट्रेसिंग के आधार पर कुछ सत्यता सामने आई, जिसके आधार पर पुलिस को शक पैदा हुआ और आगे जांच बढ़ाते हुए हसमत को हल्द्वानी मोड़ से और यतवीर को गांव सर्फाबाद यादव के मकान से गिरफ्तार कर लिया.

Written By : मनीष चौरसिया | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 14 Oct 2020, 04:41:44 PM
kidnapped

अपरहरण सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्‍ली:

नोएडा के थाना 49 क्षेत्र में पैसों के लालच में आकर अपने ही भतीजे के बेटे को किडनैप कर अपने दोस्त की पत्नी की सुनी गोद भर दी. और अंजान बनकर पीड़ित के साथ मिलकर बच्चे को ढूढ़वाता रहा.   पुलिस ने जब जांच आगे बढ़ाई तो एक महिला  समेत हसमत व यतबीर की गिरफ्तार हुई. पुलिस ने अपनी मुस्तैदी से साढ़े 3 वर्षीय रौनक के सकुशल बरामद कर लिया है. 

बीते 11 सितंबर को थाना 49 क्षेत्र के किराए के मकान में रह रहे वीरेंद्र ने तहरीर दी उनका साढ़े 3 बर्षीय बच्चा रौनक घर पर खेल रहे थे लेकिन उसकी काफी तलाशी के बाद भी कुछ पता नही चल सका है. पुलिस ने गुमशुगदी में मामला दर्ज कर लिया. आगे जांच बढ़ाई जिसमें वीरेंद्र के फूफा यतवीर व इसका दोस्त हसमत की मोबाइल ट्रेसिंग के आधार पर कुछ सत्यता सामने आई, जिसके आधार पर पुलिस को शक पैदा हुआ और आगे जांच बढ़ाते हुए हसमत को हल्द्वानी मोड़ से और यतवीर को गांव सर्फाबाद यादव के मकान से गिरफ्तार कर लिया. और गहन पूँछतांछ की गई.  पूछताछ में हसमत ने बताया कि उनके कोई संतान नहीं थी उन्होंने एक बार यतवीर से कहा कि कोई बच्चा दिलवा दो वो 1-1.5 लाख खर्च कर देंगे.

पीड़ित वीरेंद्र और उसकी पत्नी को यकीन नहीं हो रहा कि उनके साथ रहने वाले फूफा ने इस घटना को अंजाम दिया है. पीड़ित वीरेंद्र की आंखे ये बताते हुए भर जाती है कि उसने खुद अपनी बुआ की शादी इस आदमी से करवाई थी और बुवा का कन्यादान भी किया था. हालांकि अब हसमत की पत्नी का कहना है कि उसे नहीं पता था कि जो बच्चा उसे दिया गया है उसे इस तरह से किडनैप किया गया है. फिलहाल पुलिस तीनो को जेल भेज रही है.

First Published : 14 Oct 2020, 04:41:44 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो