News Nation Logo

Love Jihad: पुलिस ने आफताब के छतरपुर स्थित किराए के घर का दौरा किया

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 16 Nov 2022, 08:21:20 PM
Sharddha Murder

(source : IANS) (Photo Credit: Twitter)

नई दिल्ली:  

दिल्ली पुलिस की एक टीम ने बुधवार को दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर में आफताब अमीन पूनावाला (28) के किराए के मकान का दौरा किया, जिसमें उसने अपनी लिव-इन पार्टनर की कथित तौर पर हत्या कर उसके शव के 35 टुकड़े करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.  पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, पुलिस टीम ने फोरेंसिक टीमों के साथ फिर से घर का निरीक्षण किया. अधिकारी ने कहा, जांचकर्ताओं ने मकान मालकिन से भी बात की है और रेंट एग्रीमेंट को भी पुलिस ने जब्त कर लिया है. रेंट एग्रीमेंट पर बतौर गवाह आफताब की लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वॉकर के दस्तखत हैं.

पुलिस की टीमें घर में और सबूतों की तलाश कर रही हैं. सूत्रों ने बताया कि आफताब की गिरफ्तारी के बाद से हत्या में प्रयुक्त हथियार की भी तलाश की जा रही है. जांचकर्ताओं का कहना है कि आफताब जांच में उनके साथ सहयोग नहीं कर रहा है. एक सूत्र ने कहा, उसके बयान बार-बार बदल रहे हैं. उसने पहले जांचकर्ताओं को बताया कि उसने श्रद्धा का मोबाइल फोन महाराष्ट्र में फेंक दिया था, लेकिन अब कह रहा है कि उसने फोन दिल्ली में कहीं गिरा दिया था.

पुलिस के मुताबिक, 18 मई को आफताब का श्रद्धा के साथ झगड़ा हुआ था, क्योंकि श्रद्धा ने उस पर धोखा देने का संदेह किया था. आफताब ने उसे पीटा था और उसके बेहोश होने के बाद वह उसके सीने पर बैठ गया और फिर उसका गला घोंट दिया.

श्रद्धा के एक दोस्त ने कहा, यह पहली बार नहीं है जब उसे आफताब ने पीटा है. उसने अपने माता-पिता को भी बताया था और यहां तक कि उसके दोस्तों ने भी उसे आफताब के चंगुल से छुड़ाया था, लेकिन बार-बार मनाने पर वह उसके पास लौट आई थी.

18 मई को शव के टुकड़े-टुकड़े करने के बाद आरोपी ने अगले दिन एक बड़ी भंडारण क्षमता वाला नया रेफ्रिजरेटर खरीदा था और शव के टुकड़ों को उसमें जमा कर दिया. बदबू से बचने के लिए वह अपने घर में अगरबत्तियां जलाया करता था. आफताब कथित तौर पर अमेरिकी अपराध शो डेक्सटर से प्रेरित था, जो एक ऐसे व्यक्ति की कहानी बताता है जो एक दोहरी जिंदगी जीता है.

प्रशिक्षित शेफ होने के कारण आरोपी चाकू चलाने में माहिर था. हालांकि, हत्या में प्रयुक्त हथियार अभी तक बरामद नहीं किया जा सका है.उसने 18 दिनों की अवधि में श्रद्धा के शरीर के टुकड़ों को विभिन्न स्थानों पर फेंक दिया था.

First Published : 16 Nov 2022, 08:21:20 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.