News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

ऑटो चालक के दोस्त ने दिया धोखा, किडनैपिंग का प्लान बना मांगी फिरौती

पत्नी को फोन कर फिरौती मांगनी शुरू की. महिला ने मामले की शिकयात पुलिस को दे दी.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 10 Jan 2022, 03:32:20 PM
crime

ऑटो चालक के दोस्त ने किडनैपिंग का प्लान बनाया (Photo Credit: file photo)

highlights

  • महिला ने मामले की शिकयात पुलिस को दे दी
  • क्राइम ब्रांच ने आरोपियों को गिरफ्तार कर पीड़ित को बचाया
  • गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम फेरू है

फरीदाबाद:

दिल्ली-एनसीआर में एक अपहरण के मामले में ​पुलिस को बड़ी सफलता मिली. यह मामला फरीदाबाद के एसजीएम नगर इलाके में एक ऑटो चालक की किडनैपिंग का है. आरोपी चालक के साथ ऑटो को यूपी के शिकोहाबाद ले गए. आरोपियों ने पीड़ित के मोबाइल से उसकी पत्नी को फोन कर फिरौती मांगनी शुरू की. महिला ने मामले की शिकयात पुलिस को दे दी. क्राइम ब्रांच ने आरोपियों को गिरफ्तार कर पीड़ित को बचाया. गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम फेरू है. वह उत्तर प्रदेश शिकोहाबाद तहसील के नंगला नयाहरिया गांव का रहने वाला है. वह फिलहाल हिमाचल की मंडी स्थित जोगिंदर नगर में रह रहा था. अपहरण की साजिश में तीन अन्य आरोपी भी शामिल हैं.

क्राइम ब्रांच 48 प्रभारी राकेश कुमार ने बताया कि वारदात का मास्टर माइंड रिंकू है. उसने राहुल नगर निवासी ऑटो चालक राजीव का चार जनवरी को अपहरण कर लिया था. रिंकू ऑटो चालक को पहले से ही जानता था. उसने अपने साथियों के संग मिलकर राजीव के अपहरण की योजना बनाई थी. इसके बाद रिंकू ने राजीव को बस स्टैंड बल्लभगढ़ बुलाया.

उसके ऑटो को किराए पर शिकोहाबाद तहसील स्थित अपने गांव ले गया. वहां रिंकू के गांव के दो अन्य साथियों ने राजीव को एक मकान में रस्सियों से बांध दिया. पांच जनवरी को रिंकू ने राजीव के मोबाइल से उसकी पत्नी को फोन कर बताया कि उन्होंने राजीव का अपहरण कर लिया है. वह अपने पति की जान की सलामती चाहती है तो एक घंटे में उनके बैंक अकाउंट में 25 हजार रुपये दे.

पैसे जमा कराने के लिए उसने अपने साले फेरू का अकाउंट नंबर उसे दे दिया. महिला ने इसकी पुलिस को दे दी. आरोपियों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कर तलाश शुरू हुई. क्राइम ब्रांच सेक्टर-48 प्रभारी राकेश की अगुवाई में टीम का गठन किया गया. क्राइम ब्रांच टीम ने आरोपियों की धरपकड़ की रणनीति बनाई.  

पांच लाख फिरौती लेने की थी योजना

फेरू हिमाचल में रहता था. आरोपियों को जल्द पकड़ जाने का डर नहीं था. रिंकू ने राजीव का अपहरण कर पैसे फेरू के अकाउंट में मंगवाने की योजना बनाई थी. योजना थी कि राजीव के परिजनों से धीरे धीरे किश्तों में करीब 5 लाख रुपये की फिरौती वसूली जाए. दूसरी बार और ज्यादा पैसे की मांग होगी. पकड़े गए आरोपी का कहना है कि रिंकू उसका जीजा है. उसने ही अपहरण प्लान बनाया था. इसके तहत अकाउंट में पैसा डलवाने की बात उसकी पत्नी से कही थी. पूछताछ के बाद आरोपी को कोर्ट ने भेज दिया है. रिंकू और दो अन्य की तलाश अभी भी जारी है.

First Published : 10 Jan 2022, 03:30:34 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो