News Nation Logo

BREAKING

Banner

दिल्ली : स्पेशल सेल ने 2 लाख के इनामी 'दबंग' सहित दो शार्प-शूटर दबोचे

अमित उर्फ दबंग के साथ उसका एक गुर्गा भी गिरफ्तार किया गया है. अमित दो साल से 'मकोका' के एक मामले में फरार था.

IANS | Updated on: 27 Jan 2020, 12:41:13 PM
स्पेशल सेल ने 2 लाख के इनामी 'दबंग' सहित दो शार्प-शूटर दबोचे

स्पेशल सेल ने 2 लाख के इनामी 'दबंग' सहित दो शार्प-शूटर दबोचे (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

अपनी गिरफ्तारी पर दो साल से दो लाख रुपये के इनाम का बोझ ढोते हुए इधर-उधर भाग रहे 'दबंग' यानि कुख्यात शार्प-शूटर अमित को दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने धर दबोचा. अमित उर्फ दबंग के साथ उसका एक गुर्गा भी गिरफ्तार किया गया है. अमित दो साल से 'मकोका' के एक मामले में फरार था.

सोमवार को यह जानकारी आईएएनएस को दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के डीसीपी (उपायुक्त) मनीषी चंद्रा ने दी. चंद्रा ने आगे बताया, 'दबंग' के साथ गिरफ्तार और हत्या के मामले में वांछित दूसरे बदमाश का नाम रवि उर्फ मुनिया है. रवि मुनिया कुख्यात सुनील राठी और नीरज बबानिया गैंग का शार्प शूटर-कांट्रेक्ट किलर है. पैसे के लिए किसी का भी मर्डर करने में माहिर मुनिया भी लंबे समय से अपनी गिरफ्तारी पर एक लाख की इनामी राशि का बोझ ढो रहा था.

यह भी पढ़ें: NPR की प्रक्रिया पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इंकार, जारी किया नोटिस

डीसीपी मनीषी चंद्रा के मुताबिक, 'इन खूनी बदमाशों को दबोचने की कोशिशें लंबे समय से चल रही थीं. चूंकि दोनों बेहद चालाक हैं, इसलिए पुलिस से बच निकलते थे. इन्हें दबोचने के लिए स्पेशल सेल इंस्पेक्टर विक्रम दहिया की विशेष टीम गठित की गयी थी. इन बदमाशों के पीछे पड़ी टीम को पता चल चुका था कि, अमित उर्फ दबंग उर्फ सोनू टिल्लू ताजपुरिया गैंग का सबसे विश्वासपात्र निशानेबाज है. ये दोनों हत्या, हत्या की कोशिश और लूटपाट के 6 से ज्यादा मामलों में फरार चल रहे थे.

यह भी पढ़ें:  AIMPLB ने कहा, 'हम निकाह, हलाला और बहुविवाह का समर्थन करते हैं'

गिरफ्तारी के बाद 33 साल के खतरनाक शूटर मुनिया ने पुलिस को बताया कि वो, हरियाणा के सोनीपत जिले में स्थित गांव बरोना का रहने वाला है. मुनिया के खिलाफ हरियाणा और दिल्ली में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. पता चला है कि दबंग ने ही सन् 2014 में कुख्यात बदमाश जितेंद्र उर्फ गोगी के ऊपर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी. अंधाधुंध गोली चलाये जाने की उस घटना को अंजाम दिल्ली में रोहिणी कोर्ट के करीब दिया गया था. उस हमले में बदमाश गोली घायल होने के बाद भी दबंग के हाथों मरने से बच गया था.

स्पेशल सेल डीसीपी (काउंटर इंटेलीजेंस) मनीषी चंद्रा ने आईएएनएस को आगे बताया, '24 जनवरी को मुनिया और दबंग दिल्ली में अलग अलग स्थानों पर पहुंचेगे. उसी वक्त से सब-इंस्पेक्टर संदीप डवास, सुनील सरोहा, सचिन पिलानिया, सुमेर, निशांत दहिया (सभी सब-इंस्पेक्टर), सहायक पुलिस उप-निरीक्षक गौरव व बच्चू सिंह, हवलदार नवीन कुमार और सिपाही नवीन की अलग-अलग टीमें बनायी गयीं.' उन्होंने कहा कि इन टीमों को दोनो बदमाशों को दबोचने के लिए दिल्ली के सभी संभावित स्थानों पर तैनात किया गया था. जैसे ही दोनो बदमाश पुलिस से घिरे। पुलिस टीमों ने उन्हें दबोच लिया.

First Published : 27 Jan 2020, 12:38:29 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो