News Nation Logo
Banner

अपराध की राजधानी दिल्लीः बिल्डर की हत्या में पुलिस खाली हाथ

गौरतलब है कि दिल्ली के सिविल लाइंस के नामी-गिरामी बिल्डर राम किशोर अग्रवाल के चाकू से बिंधे शरीर को सुबह उनके बेटे ने देखा था. मृतक नीचे के फ्लोर पर अकेले रहते थे.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 02 May 2022, 11:29:46 AM
Crime  Delhi

सिविल लाइंस के इस इलाके में हुई थी बिल्डर की हत्या. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • 77 साल के बिल्डर का चाकू के जख्मों से बिंधा शव मिला था सुबह
  • बेटे ने पुलिस को सूचना देकर बताया कैश के चार गत्ते भी गायब
  • सीसीटीवी फुटेज में भागते दिखे दो युवक, पुलिस अभी कर रही पहचान

नई दिल्ली:  

उत्तरी दिल्ली के बेहद पॉश माने जाने वाले इलाके सिविल लाइंस में रविवार सुबह एक बिल्डर की अज्ञात अपराधियों ने बेरहमी से हत्या कर दी थी. अब उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट औऱ दिल्ली पुलिस की जांच से कई अहम खुलासे हुए हैं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक बिल्डर के शरीर पर चाकू के चार गहरे जख्म मिले हैं. इसके साथ ही मृतक के बेटे ने यह भी बताया है कि मारे गए शख्स के कैश से भरे चार गत्ते के डिब्बे भी हत्यारे साथ ले गए हैं. हत्या कर भागते अपराधियों की सीसीटीवी फुटेज भी मिल गया है. 

निचले फ्लोर पर अकेले रहते थे मृतक बिल्डर
गौरतलब है कि दिल्ली के सिविल लाइंस के नामी-गिरामी बिल्डर राम किशोर अग्रवाल के चाकू से बिंधे शरीर को सुबह उनके बेटे ने देखा था. मृतक नीचे के फ्लोर पर अकेले रहते थे, जबकि बेटा औऱ बहू ऊपरी फ्लोर पर रहते थे. बेटे ने ही दिल्ली पुलिस को वारदात की सूचना दी. साथ ही यह भी बताया भी उनके कमरे से भारी मात्रा में नगदी भी गायब है. इसके बाद की शुरुआती तफ्तीश में पुलिस को सीसीटीवी फुटेज से दो युवक दीवार फांद कर भागते दिखे. इसी आधार पर अज्ञात अपराधियों की तलाश की जा रही है. 

भारी मात्रा में नगदी भी ले गए हत्यारे
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्हें सुबह 6.52 बजे एक कॉल आई. सिविल लाइंस इलाके से फोन करने वाले शख्स ने बताया कि उसके पिता की हत्या अज्ञात लोगों ने कर दी है. बिल्डर राम किशोर अग्रवाल को सुश्रुत ट्रामा सेंटर सिविल लाइंस ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. पुलिस ने कहा, यह पता चला कि लगभग 6.40 बजे, मृतक के बेटे ने उन्हें अपने बिस्तर पर पड़ा पाया, उनके शरीर पर चाकू के चार निशान थे. कमरे से कुछ कार्डबोर्ड बॉक्स भी गायब पाए गए जिसमें नकदी रखी हुई थी. कैश कितना था, इसका पता नहीं चल पाया है.

सीसीटीवी फुटेज में दीवार फांद भागते दिखे आरोपी
पुलिस ने कहा कि एक सुरक्षा गार्ड ने तड़के दो लोगों को घर से भागते हुए देखा. इस आधार पर सुरक्षा गार्ड का बयान भी दर्ज किया गया. पुलिस आरोपी का सुराग लगाने के लिए इलाके के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है. आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है और दोषियों की पहचान करने और उन्हें पकड़ने के प्रयास किए जा रहे हैं. बताते हैं कि पुलिस के आधा दर्जन के आसपास टीमें आरोपितों की धर-पकड़ में जुटी हुई है. 

First Published : 02 May 2022, 11:29:46 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.