News Nation Logo

अमेरिका का झांसा देकर भेजा रशिया, 10 लाख लूटकर एजेंटों ने किया शोषण

Arun Kumar | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 19 Sep 2022, 07:31:36 AM
faroud

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • अमेरिका में सैटल होने का दिखाया सब्जबाग, तीन किस्तों में पैसे देने के लिए कहा 
  • पीड़ित परिवार ने आरोपी को नामजद करते हुए दी तहरीर

नई दिल्ली :  

अगर आप विदेश में नौकरी कर सैटल होने का सपना देख रहे हैं और वो भी एजेंट के थ्रु तो आपको बेहद सावधान रहने की जरूरत है. जी हां हरियाणा के अंबाला शहर में एक युवक को अमेरिका में वर्क परमिट के साथ सैटल होने का झूठा सपना दिखाकर एजेंटों ने रशिया ले जाकर उससे 10 लाख रूपये वसूले.
अंबाला के रहने वाले युवक के मुताबिक उसको एजेंट ने 30 लाख रुपये में अमेरिका में सैटल होने का सब्जबाग दिखाया.आरोपी की बातों में आकर परिवार ने आरोपी एजेंट को फिलहाल 10 लाख रूपये की रकम को दो किस्तों में दे दिया. इसके बाद एजेंट ने उसको अमेरिका का बदले रशिया भेज दिया और वहां पर उसको 2-3 दिन तक मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताडित किया इस दौरान उसको खाना तक नहीं दिया गया.


झूठे प्लान से अमेरिका में बसाने का दिया लालच
पीड़ित युवक ने इस मामले की शिकायत थाना नग्गल में दर्ज करवाई है. शिकायतकर्ता जय सिंह के अनुसार बीते नवंबर 2018 में प्रवीन कुमार निवासी कुरुक्षेत्र उसके रिश्तेदार सुरेश कुमार के साथ उनके घर आया था.बातचीत के दौरान आरोपी ने जयसिंह के बेटे गुरदीप को अमेरिका में कानूनी तौर पर वर्क परमिट के साथ सैटल होने का पूर्वनियोजित प्लान बताकर अपने झांसे में फंसाया.आरोपी ने इसके लिए परिवार से 30 लाख रूपये की डिमांड रखी.बेटे की खुशी के कारण फिलहाल परिवार उसको 2 किस्तों में 10 लाख रूपये दे चुका था.


झूठ बोलकर अमेरिका की जगह रशिया भेजा
पीड़ित ने बताया कि उन्होंने आरोपी को पहले 4,46,400 और फिर पांच लाख 53 हजार 600 रुपये दिए.पैसे मिलने के बाद आरोपियों ने उनके बेटे गुरदीप सिंह को कुछ दिन मुंबई के किसी होटल में फिर दिल्ली और फिर जीरकपुर में रखा. आरोपी गुरदीप को तकरीबन छह माह बाद दिल्ली एयरपोर्ट पर ले गया और उसे साउथ अमेरिका की जगह रशिया का वीजा पकड़ा दिया. इस पर आपत्ति जताने पर आरोपियों ने गुरदीप को बताया कि उसे दक्षिण अमेरिका के स्थान पर रूस से यूएसए भेज दिया जाएगा.


भूखा रखकर मारपीट की और पैसे छीने
गुरदीप ने बताया कि जब वह रूस एयरपोर्ट पहुंचा तो उसे लेने के लिए पहले से ही वहां पर 3 लोग मौजूद थे.उनमें एक पाकिस्तानी भी था.आरोपी गुरदीप को एक होटल मे ठहरा दिया.इस दौरान एजेंटों ने गुरदीप को मानसिक व शारीरिक तौर पर प्रताड़ित करना शुरू कर दिया और उसके पास जितने रुपये थे, छीन लिए.यहां तक की उसको कई-कई दिन तक खाना भी नहीं दिया.उसके साथ मारपीट शुरू कर दी.


लगातार करते रहे पैसों की मांग
गुरदीपर बीते तीन महीने तक आरोपियों के मकड़जाल में था.आरोपियों ने गुरदीप को पुर्तगाल भेजने के एवज में तीन लाख रूपये की मांग की फिर उसको वहां से बेलारूस भेज दिया गया.उसके बाद रशिया ले जाकर गुरदीप के साथ मारपीट और हर तरह से उसका शोषण किया गया.बड़ी मुश्किल से वह एजेंटों के चंगुल से निकलकर कोरोना काल में चलाए गए मोदी रिमिशन स्पेशल प्लेन के जरिये भारत पहुंचा.

First Published : 19 Sep 2022, 07:31:36 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.