News Nation Logo

BREAKING

Banner

अपनी कहानी अपने हिसाब से कहें और वेब वंडर वूमेन बनकर जीतें इनाम

आवाजें होनी जरूरी है लेकिन ऑनलाइन स्पेस पर जब ये आवाजें अगर सही जगह नहीं पहचती हैं तो उसका असर हमारी सहभागिता और आत्मविश्वास पर पड़ता है

News Nation Bureau | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 09 Jan 2019, 02:29:39 PM
वेब वंडर वूमेन अभियान की शुरूआत करते हुए केंद्रीय मंत्री मेनका संजय गांधी ने की.

वेब वंडर वूमेन अभियान की शुरूआत करते हुए केंद्रीय मंत्री मेनका संजय गांधी ने की.

नई दिल्‍ली:

आवाजें होनी जरूरी है लेकिन ऑनलाइन स्पेस पर जब ये आवाजें अगर सही जगह नहीं पहचती हैं तो उसका असर हमारी सहभागिता और आत्मविश्वास पर पड़ता है और इसकी वजह से हम अपने अधिकारों को पहचान भी नहीं पाते हैं और उनका उपयोग भी नहीं कर पाते हैं. महिलाओं को अपनी कहानी अपने हिसाब से कहने का अवसर उपलब्ध करवा रहा है वेब वंडर वूमेन कैंपेन. यह वेब वंडर वूमेन (Web wonder women) कैंपेन फरवरी तक चलेगा और 6 मार्च को विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा.  

यह भी पढ़ेंः सवर्ण आरक्षण: गरीब सवर्ण होने के बाद भी मुश्‍किल होगा आरक्षण का लाभ लेना, ये हैं कारण

महिला व बाल कल्याण मंत्रालय से वेब वंडर वूमेन (Web wonder women) अभियान की शुरूआत करते हुए केंद्रीय मंत्री मेनका संजय गांधी ने कहा कि भारतीय महिलाओं ने सामाजिक बदलाव में हमेशा से अपनी सहभागिता निभायी है, ऑनलाइन प्लेटफार्म पर भी उनका छोटा लेकिन प्रभावी समूह है, लेकिन इसके साथ ही तमाम महिलाएं ऐसी भी हैं जो अपने सीमित साधनों के साथ ही छोटे ही सही लेकिन बदलाव ला रही है, लेकिन उनकी वो पहचान नहीं है जो होनी चाहिए . जरूरत हैं उन्हें पुरस्कृत करके प्रेरित करने की जिससे उनकी आवाजें और प्रभावी रूप से दिखाई और सुनाई पड़े. मंत्रालय को ट्विटर और ब्रेकथ्रू के साथ इस अभियान का हिस्सा बनने में बहुत खुशी है.

यह भी पढ़ेंः सवर्ण आरक्षण: गरीब सवर्ण होने के बाद भी मुश्‍किल होगा आरक्षण का लाभ लेना, ये हैं कारण

हम सभी का प्रयास रहेगा कि महिलाओं को इस अभियान के माध्यम से और अधिक जगह और पहचान मिले जिससे वो अपनी सहभागिता को और बेहतर तरीके से देख सकें.
वाइस प्रेसीडेंट,ग्लोबल पब्लिक पॉलिसी एंड फीलनथ्रापी,ट्विटर कोलिन क्रोवेल ने कहा कि ट्विटर पर हर रोज विभिन्न तरीके के संवाद होते हैं. ब्रेकथ्रू की सीईओ सोहिनी भट्टाचार्य ने कहा कि हमारा प्रयास रहता है कि जिन लोगों ने कुछ अलग किया है, उनकी तरह-तरह की आवाजों को अपने इस प्लेटफार्म के माध्यम से प्रोत्साहित किया जाए. मंत्रालय और ब्रेकथ्रू के सहयोग से हम इस वेब वंडर वूमेन (Web wonder women) कैंपेन की शुरूआत कर रहे हैं, जिसके माध्यम से हमारा उद्देश्य उन महिलाओं को एक नई पहचान दिलाना है जो उर्जावान है, जो कुछ अलग कर रही हैं और आमतौर पर जिनको लोग नहीं जानते हैं. हम उम्मीद करते हैं कि इस कैंपन से उनके काम और नाम को एक नई पहचान मिलेगी.

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तानियों को बेहद पसंद है गुलाब जामुन, इमरान सरकार ने घोषित की राष्ट्रीय मिठाई

ट्विटर पर महिलाओं की उपस्थिति बढ़ाने के लिए महिला व बाल कल्याण मंत्रालय (भारत सरकार), ट्विटर और ब्रेकथ्रू ने संयुक्त रूप से वेब वंडर वूमेन (Web wonder women) कैंपेन की शुरूआत की. इस अवसर पर महिला व बाल कल्याण मंत्री मेनका गांधी, कोलिन क्रोवेल, वाइस प्रेसीडेंट, ग्लोबल पब्लिक पॉलिसी एंड फीलनथ्रापी, ट्विटर और ब्रेकथ्रू की सीईओ- सोहनी भट्टाचार्या मौजूद रहीं.

First Published : 09 Jan 2019, 02:24:37 PM

For all the Latest Specials News, Know Your Rights News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×