News Nation Logo
Banner

खुशखबरी, चालू वित्त वर्ष के अंत तक आ सकता है NPS का गारंटीड रिटर्न वाला प्रोडक्ट

National Pension System-NPS: पीएफआरडीए के चेयरमैन सुप्रतिम बंदोपाध्याय ने कहा कि न्यूनतम गारंटीशुदा रिटर्न वाले उत्पाद को लेकर पिछले साल बातचीत हुई थी. एनपीएस बाजार से जुड़ा उत्पाद है और इसने पिछले 10 साल में लगभग 10 प्रतिशत प्रतिफल दिया है.

Bhasha | Updated on: 16 Oct 2020, 10:00:14 AM
National Pension System NPS

राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (National Pension System-NPS) (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली:

पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (PFRDA) ने कहा कि वह चालू वित्त वर्ष के अंत तक राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (National Pension System-NPS) के तहत सुनिश्चित प्रतिफल (Assured Return) वाले उत्पाद को अंतिम रूप दे सकता है. पीएफआरडीए के चेयरमैन सुप्रतिम बंदोपाध्याय ने कहा कि न्यूनतम गारंटीशुदा रिटर्न वाले उत्पाद को लेकर पिछले साल बातचीत हुई थी. एनपीएस बाजार से जुड़ा उत्पाद है और इसने पिछले 10 साल में लगभग 10 प्रतिशत प्रतिफल दिया है. 

यह भी पढ़ें: रेफ्रिजरेंट्स के साथ AC इंपोर्ट पर लगी रोक, मोदी सरकार का बड़ा फैसला

उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बीमा क्षेत्र में जो भी गारंटी वाले उत्पाद थे, उन्हें धीरे-धीरे वापस ले लिया गया. क्योंकि यह महसूस किया गया कि लंबी अवधि तक इसे बनाये रखना संगठनों के लिये व्यवहारिक नहीं है. बंदोपाध्याय ने कहा कि गारंटीशुदा उत्पाद की पेशकश हमारे कानून का हिस्सा है. हमें यह करना है. जैसे ही आप गारंटी वाला उत्पाद देते हैं, कोष प्रबंधकों के लिये पूंजी पर्याप्तता जरूरत बढ़ जाती है. फिलहाल हम जो कर रहे हैं, उसमें उत्पाद ‘मार्क टू मार्केट’ (बाजार मूल्य पर संपत्ति की कीमत तय करने की प्रक्रिया) आधार पर है. हम निवेश को लेकर कोई जोखिम नहीं ले रहे.

यह भी पढ़ें: 7th Pay Commission: सरकारी कर्मचारियों को कब तक मिल सकता है बढ़ा हुआ मंहगाई भत्ता, जानिए यहां

नए प्रोडक्ट के लिए नियामक जल्दी ही एक समिति गठित करेगा
उन्होंने कहा कि नियामक जल्दी ही एक समिति गठित करेगा. हम इस वित्त वर्ष में उत्पाद तैयार करेंगे और उसे निदेशक मंडल के समक्ष रखेंगे. अगले छह महीने में आपको ऐसे उत्पाद देखने को मिल सकता है लेकिन उसे पेश करने में देरी हो सकती है. इसके अलावा नियामक एक सार्वभौमिक पेंशन योजना पर भी विचार कर रहा है. बंदोपाध्याय ने कहा कि हमने सार्वभौमिक पेंशन के बारे में ब्योरा रखा (वित्त मंत्रालय के समक्ष) है.

यह भी पढ़ें: Gold Rate Today: हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन सोने-चांदी में क्या करें, जानिए यहां

वास्तव में हम यह कोशिश कर रहे हैं कि बड़ी संख्या में लोग पेंशन के दायरे में आयें जो अभी नहीं हो रहा. खासकर छोटे कारोबारियों और असंगठित क्षेत्र के लिये यह जरूरी है, जहां 20 से कम लोग काम करते हैं. उन्होंने कहा कि हम देख रहे हैं कि क्या हम उन्हें एनपीएस या अटल पेंशन योजना (एपीवाई) के दायरे में ला सकते हैं.

First Published : 16 Oct 2020, 09:57:58 AM

For all the Latest Business News, Personal Finance News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो