News Nation Logo

चेतावनी! एक से अधिक है बैंक अकाउंट, तो हो जाएं सतर्क, हो सकता है बड़ा नुकसान

एक से ज्यादा बैंक अकाउंट (Bank Account) होने की स्थिति में समय बीतने के साथ ही लोग ज्यादा अकाउंट को मैनेज नहीं कर पाते हैं. साथ ही कई अकाउंट में पैसा होने पर बचत खाते पर मिलने वाला ब्याज कम होने से आपको काफी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 28 Jun 2019, 08:06:08 AM
फाइल फोटो

highlights

  • एक से अधिक अकाउंट होने पर न्यूनतम राशि रखने में हो सकती है परेशानी
  • मिनिमम बैंलेस नहीं रखने पर बैंक आप पर लगा सकते हैं जुर्माना
  • बैंक खाते के मुकाबले MF, फिक्स्ड डिपॉजिट में ज्यादा रिटर्न मिलने के आसार 

नई दिल्ली:

आमतौर पर देखा गया है कि लोग शौकिया तौर पर एक से ज्यादा बैंक अकाउंट (Bank Account) रखते हैं. समय बीतने के साथ ही लोग ज्यादा अकाउंट को मैनेज नहीं कर पाते हैं. खासकर नौकरीपेशा लोगों के साथ ये दिक्कत ज्यादा होती है. आज की इस रिपोर्ट में हम एक से अधिक अकाउंट होने के क्या नुकसान हैं इस पर चर्चा करेंगे.

यह भी पढ़ें: Petrol Diesel Price 28 June: लगातार दूसरे दिन महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, जानिए नए रेट

मिनिमम बैलेंस मेनटेन करने में परेशानी
ज्यादातर बचत खाते (Saving Account) में न्यूनतम राशि रखने का नियम होता है. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं, बैंक आपसे जुर्माना वसूल सकता है. कई निजी बैंकों में जहां न्यूनतम बैलेंस की राशि 10 हजार रुपये तक है. वहीं ज्यादातर सरकारी बैंकों में आज भी 1 हजार रुपये न्यूनतम बैलेंस है. अब मान लीजिए कि आपके पास एक से अधिक बैंक अकाउंट है तो निश्चिततौर पर आपके लिए टेंशन होना स्वाभाविक है.

यह भी पढ़ें: इंडिगो (IndiGo) ने हवाई यात्रियों को दिया बड़ा झटका, टिकट कैंसिल कराने पर देने पड़ेंगे ज्यादा पैसे

IT रिटर्न फाइल करने में होती है दिक्कत
इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते समय आपका CA सभी बैंक अकाउंट से जुड़ी जानकारियां मांग सकता है. मान लीजिए कि आपने अपने किसी बैंक अकाउंट का जानकारी रिटर्न फाइल करते समय नहीं दी तो भविष्य में स्क्रूटनी होने पर आप मुसीबत में पड़ सकते हैं. वहीं रिटर्न के समय सभी बैंक अकाउंट का स्टेटमेंट जुटाना काफी मुश्किल भरा काम होता है.

यह भी पढ़ें: देश के इस बड़े कारोबारी घराने में बंटवारे का साया, जमीन को लेकर शुरू हुआ विवाद

कई बैंक अकाउंट होने से देना पड़ सकता है अतिरिक्त चार्ज
कई बैंक अकाउंट होने से और भी नुकसान हैं. बैंक डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के अलावा अन्य बैंकिंग सुविधाओं के लिए ग्राहकों से चार्ज लेता है. ऐसे में कई बैंक अकाउंट होने की स्थिति में आपको काफी पैसे का नुकसान होने की आशंका बढ़ जाती है.

यह भी पढ़ें: सातवां वेतन आयोग (7th Pay Commission): नरेंद्र मोदी सरकार के बजट में सरकारी कर्मचारियों को मिल सकती है बड़ी खुशी

एक से अधिक बैंक अकाउंट होने से आपको ब्याज के मोर्चे पर भी नुकसान उठाना पड़ सकता है. मतलब ये है कि अगर आपका पैसा कई अकाउंट में कैद है तो आपको बचत खाते पर मिलने वाला ब्याज चूंकि काफी कम होता है. ऐसे में आपको काफी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ सकता है. वहीं अगर आप उन पैसों को किसी अन्य स्कीम जैसे म्यूचुअल फंड (MF), फिक्स्ड डिपॉजिट आदि में लगाते तो ज्यादा रिटर्न मिलने के आसार रहते हैं.

First Published : 28 Jun 2019, 08:06:08 AM

For all the Latest Business News, Personal Finance News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.