News Nation Logo
Banner

लखपति बना देगा यह बिजनेस, महज 25 हजार रुपये करना होगा निवेश

How To Become Lakhpati: जूट बैग का बिजनेस उन लोगों के लिए है जिनके पास ज्यादा पूंजी नहीं है लेकिन अपना खुद का कोई व्यापार शुरू करना चाहते हैं. ऐसे व्यक्ति सिर्फ 25,000 रुपये की पूंजी लगाकर आप अपना खुद का बिजनेस शुरू कर सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 19 Sep 2020, 07:31:23 AM
Jute Bag

जूट बैग (Jute Bag ) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

How To Become Lakhpati: केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने पिछले साल 2 अक्टूबर 2019 को महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयंती के अवसर पर देश में सिंगल यूज प्लास्टिक (Single Use Plastic) पर पाबंदी का ऐलान किया था. प्रधानमंत्री के द्वारा प्लास्टिक पर पाबंदी के ऐलान के बाद के बाद कई क्षेत्रों में कारोबार की अपार संभावनाएं दिखाई देने लग गई हैं. आज की इस रिपोर्ट में हम ऐसे ही एक कारोबार की चर्चा करेंगे जिसमें बहुत ही कम पैसे के निवेश के जरिए लाखों रुपये ककी कमाई की जा सकती है और लखपति बनने को सपने को पूरा किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: कोरोना काल में चली गई नौकरी, कोई बात नहीं, मोदी सरकार की इस योजना में मिलेगी सैलरी

25,000 रुपये लगाकर शुरू कर सकते हैं जूट का बैग बनाने का बिजनेस
दरअसल, यह कारोबार उन लोगों के लिए है जिनके पास ज्यादा पूंजी नहीं है लेकिन अपना खुद का कोई व्यापार शुरू करना चाहते हैं. ऐसे व्यक्ति सिर्फ 25,000 रुपये की पूंजी लगाकर आप अपना खुद का बिजनेस (Small Business) शुरू कर सकते हैं. उनके इस बिजनेस को शुरू करने में नेशनल सेंटर फॉर जूट डायवर्सिफिकेशन (National Centre for Jute Diversification-NCFD) भी मदद करता है. गौरतलब है कि मौजूदा समय में देशभर में जूट के बैग (Jute Bag) की मांग में भारी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. अगर कोई व्यक्ति जूट के बैग बनाने का व्यापार शुरू करता है तो उसे काफी फायदा होने की संभावना है.

यह भी पढ़ें: बुढ़ापे का सहारा है सरकार की रिवर्स मॉर्गेज लोन स्कीम, जानिए इसके बारे में सबकुछ

बिजनेस को शुरू करने के लिए क्या चीजें हैं जरूरी
मिनिस्‍ट्री़ ऑफ टैक्‍सटाइल्‍स के हैंडीक्राफ्ट डिवीजन के मुताबिक एक जूट बैग मेकिंग यूनिट लगाने के लिए पांच सिलाई मशीन की जरूरत होती है. पांच सिलाई मशीन में 2 भारी काम के इस्तेमाल (हैवी ड्यूटी) के लायक होनी चाहिए. मशीनों की खरीद पर आपका कुल निवेश 90,000 रुपये आने की उम्मीद है. साथ ही 1.04 लाख रुपये की अतिरिक्त पूंजी (वर्किंग कैपिटल) चाहिए और अन्य खर्चों जैसे परिचालन लागत अन्य संपत्ति के लिए तकरीबन 58,000 रुपये खर्च करने होंगे. इस तरह आपके बिजनेस को शुरू करने की कुल लागत 2.52 लाख रुपये आएगी. बता दें कि आपको इसके कुल कैपिटल कॉस्ट के आधार पर कर्ज मिलेगा. इस प्रोजेक्‍ट के लिए आपको 65 फीसदी मुद्रा लोन करीब 1.64 लाख रुपये और 25 फीसदी NCFD कर्ज 63,000 रुपये मिल जाएगा. शेष रकम 25,000 रुपये का इंतजाम आपको खुद ही करना होगा.

यह भी पढ़ें: EPF अकाउंट होल्डर की दुर्भाग्यपूर्ण मौत पर परिवार को मिलेंगे 7 लाख रुपये

सालाना उत्पादन कितना होगा
प्रोजेक्ट के लगने के बाद आपका सालाना उत्पादन 9,000 शॉपिंग बैग, 6,000 लेडीज बैग, 7500 स्‍कूल बैग, 9,000 जेंट्स हैंड बैग, 6,000 जूट बम्‍बू फोल्‍डर होने का अनुमान है.

यह भी पढ़ें: नौकरीपेशा लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी, तय हो गया EPF पर मिलने वाला ब्याज

4 लाख रुपये से ज्यादा होगी सालाना कमाई
सालभर में कच्चे माल, तनख्वाह, किराया, बैंक का ब्याज समेत अन्य खर्चों पर करीब 27.95 लाख रुपये का खर्च आने का अनुमान है. वहीं दूसरी ओर बिक्री से आय 32.25 लाख रुपये हो सकता है. मतलब आपकी सालाना कमाई 4.30 लाख रुपये होगी यानि करीब 36,000 रुपये महीना होने लग जाएगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 18 Sep 2020, 04:43:16 PM

For all the Latest Business News, Personal Finance News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.