News Nation Logo
Banner

मई के दौरान EPFO के अंशधारकों की संख्या में हुई रिकॉर्ड बढ़ोतरी, पढ़ें पूरी खबर

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के पास मई महीने के अंत तक पंजीकृत अंशधारकों की संख्या में शुद्ध रूप से 3.18 लाख की वृद्धि हुई जो अप्रैल की तुलना में तीन गुना से भी ज्यादा है.

Bhasha | Updated on: 21 Jul 2020, 08:55:06 AM
Employees Provident Fund Organisation-EPFO

Employees Provident Fund Organisation (EPFO) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Employees Provident Fund Organisation: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के पास मई महीने के अंत तक पंजीकृत अंशधारकों की संख्या में शुद्ध रूप से 3.18 लाख की वृद्धि हुई जो अप्रैल की तुलना में तीन गुना से भी ज्यादा है. यह दौर कोराना वायरस संक्रमण (Coronavirus Epidemic) की रोकथाम के लिए लागू सार्वजनिक पाबंदियों का था जिसमें अब ढील दी जा रही है. ईपीएफओ के वेतन पर नियुक्त कर्मचारियों के मासिक आंकड़े संगठित क्षेत्र में रोजगार की दिशा के बारे में जानकारी देते हैं.

यह भी पढ़ें: आंध्र प्रदेश सरकार ने पेट्रोल, डीजल पर टैक्स बढ़ाया, अब इतने चुकाने पड़ेंगे पैसे

अप्रैल में शुद्ध रूप से हुए थे 1.33 लाख नए पंजीकरण
पिछले महीने जारी अस्थायी आंकड़े के अनुसार अप्रैल में शुद्ध रूप से 1.33 लाख नए पंजीकरण हुए थे. अप्रैल के इस आंकड़े को संशोधित कर 1,00,825 किया गया है. मार्च में यह आंकड़ा 5.72 लाख और फरवरी में 10.21 लाख था. ईपीएफओ अंशधारकों की औसत मासिक शुद्ध वृद्धि करीब 7 लाख के आसपास रहता है. सोमवार को जारी ईपीएफओ के ताजा आंकड़े के अनुसार वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान शुद्ध रूप से नये अंशधारकों की संख्या बढ़कर 78.58 लाख रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष में 61.12 लाख थी.

यह भी पढ़ें: भारत में चांदी 54,000 रुपये प्रति किलो से ऊपर, कॉमेक्स पर 20 डॉलर के पार

अप्रैल 2018 से नये अंशधारकों के आंकड़े जारी कर रहा है EPFO
ईपीएफओ अप्रैल 2018 से नये अंशधारकों के आंकड़े जारी कर रहा है. इसमें सितंबर 2017 से आंकड़े लिए गए हैं. आंकड़े से यह भी पता चलता है कि सितंबर 2017 से मई 2020 के दौरान शुद्ध रूप से जुड़े नये अंशधारकों की संख्या 1.59 करोड़ रही.

First Published : 21 Jul 2020, 08:55:06 AM

For all the Latest Business News, Personal Finance News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.