News Nation Logo

Coronavirus (Covid-19): मौजूदा हालात में क्या आपका इंश्योरेंस (Insurance) कवर पर्याप्त है, पढ़ें पूरी खबर

Coronavirus (Covid-19): फाइनेंशियल प्लानिंग की सबसे अहम बात यह है कि आप अपने वर्तमान के साथ ही भविष्य के लिए भी पूरी तैयारी करते हैं.

Dhirendra Kumar | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 13 Apr 2020, 03:01:45 PM
Insurance

इंश्योरेंस (Insurance) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

Coronavirus (Covid-19): कोरोना वायरस की वजह से आने वाले दिनों में इंश्योरेंस (Insurance) को लेकर गंभीरता दिखाई पड़ सकती है. दरअसल, जानकारों का कहना है कि इस वायरस की वजह से लोगों में स्वास्थ्य के प्रति असुरक्षा की भावना बढ़ रही है. यही वजह है कि भविष्य में अपने परिवार को ध्यान में रखते हुए लोगों में इंश्योरेंस को लेकर दिलचस्पी बढ़ सकती है. बता दें कि आज के समय में सभी के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग (Financial Planning) बेहद जरूरी हो गई है. फाइनेंशियल प्लानिंग की सबसे अहम बात यह है कि आप अपने वर्तमान के साथ ही भविष्य के लिए भी पूरी तैयारी करते हैं. जानकारों का कहना है कि लोगों को भविष्य के लिए भी वित्तीय योजना बनानी चाहिए, ताकि भविष्य में आपको किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं हो.

यह भी पढ़ें: म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) में करीब 1,000 रुपये के निवेश से बन सकते हैं करोड़पति

दरअसल, भविष्य में अगर कोई अनहोनी आपके साथ घटित हो जाती है तो उस परिस्थिति से निपटने में आपके द्वारा पूर्व में की गई वित्तीय तैयारी ही काम आती है. इसलिए मार्केट के विशेषज्ञ निवेशकों को अपनी फाइनेंशियल प्लानिंग में इंश्योरेंस (Insurance) को खासतौर पर जगह देने की सलाह देते हैं.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन में सीमित आय से भी सीखिए पैसा बचाने का तरीका, बस करने होंगे ये काम

भविष्य की सुरक्षा के लिए इंश्योरेंस बेहद अहम

वर्तमान को सुरक्षित रखने के साथ ही भविष्य की सुरक्षा के लिए इंश्योरेंस लेना बेहद जरूरी है. जानकारों का कहना है कि हर किसी को अपनी जरूरत के हिसाब से इंश्योरेंस लेना चाहिए. अक्सर देखा गया है कि बीमा और म्यूचुअल फंड को लेकर निवेशकों में पारंपरिक व्यवहार दिखता है. दरअसल, निवेशक इंश्योरेंस के साथ रिटर्न की इच्छा रखते हैं इसलिए यूलिप (ULIP) जैसे उत्पादों में निवेश करने की कोशिश करते हैं. एक्सपर्ट्स का कहना है कि निवेशकों को निवेश और इंश्योरेंस में अंतर को समझना चाहिए. दरअसल, निवेश आपकी जरूरतों को पूरा करने के लिए होता है, जबकि इंश्योरेंस के जरिए आप अपने परिवार की आर्थिक सुरक्षा करते हैं.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस संकट के चलते बड़े कच्चा तेल उत्पादक देश ‘ऐतिहासिक’ उत्पादन कटौती को तैयार

इंश्योरेंस लेते समय किन बातों का रखें ध्यान
इंश्योरेंस (Term Insurance) लेते समय हमेशा अपनी मौजूदा आय को ध्यान में रखना चाहिए. हमेशा इंश्योरेंस आय का आठ से दस गुना तक होना चाहिए, ताकि भविष्य में आपके साथ अनहोनी होने पर आपके परिवार का लाइफ स्टाइल आज के जैसे ही बना रहे. इसके अलावा अगर आपने होम लोन लिया हुआ है तो भी इंश्योरेंस लेना बहुत अहम है. दरअसल, आपकी अनुपस्थिति में होम लोन का पैसा चुकाना आपके परिवार के लिए एक बहुत बड़ी मुसीबत बन सकता है, इसलिए इंश्योरेंस लेना बेहद जरूरी है.

First Published : 13 Apr 2020, 03:01:45 PM

For all the Latest Business News, Personal Finance News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.