News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

Reliance Retail में सऊदी अरब की PIF 9,555 करोड़ का करेगी निवेश

Reliance Retail वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) में पीआईएफ (Public Investment Fund-PIF) ने 2.04 प्रतिशत इक्विटी के लिए 9,555 करोड़ रू के निवेश की घोषणा की है. सौदे में रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी को 4.587 लाख करोड़ रुपये आंका गया है.

IANS | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 06 Nov 2020, 08:06:00 AM
Reliance

रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) (Photo Credit: IANS )

नई दिल्ली :

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की कंपनी रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में निवेशकों का तांता लगा हुआ है. रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries Limited) की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) में गुरूवार को पीआईएफ (Public Investment Fund-PIF) ने 2.04 प्रतिशत इक्विटी के लिए 9,555 करोड़ रू के निवेश की घोषणा की है. सौदे में रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी को 4.587 लाख करोड़ रुपये आंका गया है.

यह भी पढ़ें: Gold Rate Today: आज फिर महंगे हो सकते हैं सोना-चांदी, जानिए क्या है वजह

9 सितंबर को सिल्वर लेक से शुरू हुआ था रिलायंस रिटेल में निवेश का सिलसिला

पिछले निवेशों की तुलना में प्री-मनी इक्विटी करीब 30 हजार करोड़ रुपए अधिक है. रिलायंस रिटेल में निवेश का सिलसिला 9 सितंबर को सिल्वर लेक से शुरू हुआ था, उसके बाद केकेआर, जनरल अंटलांटिक, मुबाडला, जीआईसी, टीपीजी और एडीआईए जैसे वैश्विक निवेश फंड इंवेस्टमेंट कर चुके हैं. पीआईएफ की डील को मिला कर अब तक 9 इनवेस्टमेंट के जरिए रिलायंस रिटेल में 10 फीसदी से अधिक की इक्विटी के लिए 47,265 हजार करोड़ से अधिक का निवेश हो चुका है. रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने सौदों पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सऊदी अरब के साथ लंबे समय से हमारे संबंध हैं.

यह भी पढ़ें: सैट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील करेगी रिलायंस इंडस्ट्रीज, जानिए क्या था मामला

पीआईएफ सऊदी अरब के आर्थिक विकास में अहम किरदार निभा रही है. मैं रिलायंस रिटेल में एक महत्वपूर्ण भागीदार के रूप में पीआईएफ का स्वागत करता हूं. हम 130 करोड़ भारतीय और लाखों छोटे व्यापारियों के जीवन को समृद्ध करने और रिटेल सेक्टर को बदलने की हमारी महत्वकांक्षी योजना के लिए पीआईएफ के निरंतर समर्थन की आशा करते हैं. रिलायंस रिटेल लिमिटेड के देश भर मे फैले 12 हजार से ज्यादा स्टोर्स में सालाना करीब 64 करोड़ खरीददार आते हैं। यह भारत का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से विकसित होने वाला रिटेल बिजनेस है. रिलायंस रिटेल के पास देश के सबसे लाभदायक रिटेल बिजनेस तमगा भी है. 

यह भी पढ़ें: लोन मोरेटोरियम के मसले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 18 नवंबर के लिए टली

कंपनी खुदरा वैश्विक और घरेलू कंपनियों, छोटे उद्योगों, खुदरा व्यापारियों और किसानों का एक ऐसा तंत्र विकसित करना चाहती है, जिससे उपभोक्ताओं को किफायती मूल्य पर सेवा प्रदान की जा सके और लाखों रोजगार पैदा किए जा सके. रिलायंस रिटेल ने अपनी नई वाणिज्य रणनीति के तहत छोटे और असंगठित व्यापारियों का डिजिटलीकरण शुरू किया है. कंपनी का लक्ष्य 2 करोड़ व्यापारियों को इस नेटवर्क से जोड़ना है. यह नेटवर्क व्यापारियों को बेहतर टेक्नॉलोजी के साथ ग्राहकों को बेहतर मूल्य पर सेवाएं देने में सक्षम बनाएगा.

First Published : 06 Nov 2020, 08:04:59 AM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.