News Nation Logo
Banner

BSE में 2 दिसंबर को लखनऊ न‍गर निगम के बॉन्ड की होगी लिस्टिंग

लखनऊ नगर निगम (Lucknow Nagar Nigam) ने 13 नवंबर को बीएसई बॉन्ड मंच के माध्यम से निजी नियोजन आधार पर नगरपालिका बॉन्ड जारी करके 200 करोड़ रुपये जुटाए थे.

Written By : बिजनेस डेस्क | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 28 Nov 2020, 12:39:38 PM
BSE

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) (Photo Credit: IANS )

मुंबई:

लखनऊ नगर निगम (Lucknow Nagar Nigam)-बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE): 2 दिसंबर 2020 को उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में मुंबई में BSE में लखनऊ नगर निगम के बॉन्ड की लिस्टिंग होगी. कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए इस कार्यक्रम का आयोजन वर्चुअल किया जाएगा. इस मौके पर देश और दुनिया की कई औद्योगिक हस्तियां भी मौजूद रहेंगी. बता दें कि लखनऊ नगर निगम (एलएमसी) ने 13 नवंबर को बीएसई बॉन्ड मंच के माध्यम से निजी नियोजन आधार पर नगरपालिका बॉन्ड जारी करके 200 करोड़ रुपये जुटाए थे.

यह भी पढ़ें: कोविड-19 के दौरान अभी तक रबी बुवाई संतोषजनक, खेती का रकबा 4 फीसदी बढ़ा

नगर आयुक्‍त अजय कुमार द्विवेदी के मुताबिक लखनऊ नगर निगम का यह बॉन्ड बाजार उन्मुख और पूरी तरह से पारदर्शी है. इसके जरिए अब स्थानीय प्रशासन को और गति मिलेगी. उनका कहना है कि राज्य सरकार अब राज्य के अन्य स्थानीय निकायों को भी प्रोत्साहित करने की तैयारी कर रही है. उनका कहना है कि ऐसा अनुमान है कि आने वाले महीनों में गाजियाबाद, वाराणसी, आगरा और कानपुर के नगर निगम भी बॉन्ड जारी हो सकते हैं. गौरतलब है कि लखनऊ में 2018 के दौरान इन्वेस्टर्स सम्मिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका ऐलान किया था और उसके बाद ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर भारत में अमृत' योजना के तहत पहले नगर निगम के बॉन्ड के रूप में लॉन्च करने के लिए एक चुनौती के रूप में इसे स्वीकार किया था. 

यह भी पढ़ें: हरदीप सिंह पुरी ने बिल्डरों से कहा, न बिक पाए घरों को जल्द बेचें, इन्हें दबाकर न बैठें

लखनऊ नगर निगम ने बीएसई बांड मंच से जुटाए 200 करोड़ रुपये
बीएसई ने एक बयान में कहा था कि नगर निगम ने बीएसई बॉन्ड प्लेटफॉर्म पर 450 करोड़ रुपये के लिये 21 बोलियां प्राप्त की थीं, जो कि इश्यू के आकार का 4.5 गुना था. एक्सचेंज ने कहा था कि यह उसके मंच पर नगरपालिका बांड जारी करने का लगातार आठवां सफल मामला है. इससे पता चलता है कि वह नगर निगमों के बीच धन जुटाने का पसंदीदा माध्यम है.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार का आदेश, BIS प्रमाणित दोपहिया वाहन चालक हेलमेट ही बनाए और बेचे जा सकेंगे

बीएसई ने कहा कि कुल 11 नगरपालिका बॉन्ड जारी किए गए हैं, जो कुल मिलाकर 3,690 करोड़ रुपये के हैं. इनमें से बीएसई बांड मंच का योगदान 3,175 करोड़ रुपये है. इस तरह नगरपालिका बांड बाजार में बीएसई की हिस्सेदारी 86 प्रतिशत पर है. लखनऊ के निगम आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी ने कहा, ‘‘हम लखनऊ नगर निगम के पहले बांड इश्यू की सफलता से खुश हैं। इसे 4.5 गुना अधिक अभिदान मिला था. (इनपुट भाषा)

First Published : 28 Nov 2020, 12:35:31 PM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.