News Nation Logo
Banner

'गलत' आईटीसी के दावे को लेकर डीजीजीआई ने Amazon को जारी किया नोटिस

Amazon ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) का भुगतान किया, जिसके लिए उसे रिफंड का दावा करना चाहिए था. इसके बजाय इसने उच्च कर स्लैब के बहाने आईटीसी का गलत दावा किया.

IANS | Updated on: 13 Jan 2021, 07:02:11 AM
अमेजन इंडिया (Amazon India)

अमेजन इंडिया (Amazon India) (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली :

वस्तु एवं सेवा कर खुफिया विभाग के महानिदेशक (डीजीजीआई) ने इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) के कथित गलत दावे को लेकर ई-कॉमर्स प्रमुख अमेजन इंडिया (Amazon India) को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. सूत्रों ने कहा कि जीएसटी खुफिया शाखा ने 175 करोड़ रुपये की मांग की है. डीजीजीआई की एक जांच में ई-कॉमर्स कंपनी द्वारा की गई गणना में त्रुटियां पाई गई हैं.

यह भी पढ़ें: समय पर आयकर न भरने वालों को CBDT की चेतावनी, कहा- देना होगा जुर्माना

इस संबंध में बताया जा रहा है कि अमेजन ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) का भुगतान किया, जिसके लिए उसे रिफंड का दावा करना चाहिए था. इसके बजाय इसने उच्च कर स्लैब के बहाने आईटीसी का गलत दावा किया. डीजीजीआई के नोटिस में गलत तरीके से दावा किए गए आईटीसी के कारण अब ब्याज की मांग की गई है. हालांकि अभी अमेजन ने कंपनी को भेजे गए ई-मेल का जवाब नहीं दिया है.

यह भी पढ़ें: Bharti Airtel को सहायक कंपनियों में 100 फीसदी FDI की मिली मंजूरी

डीजीजीआई द्वारा कैब सर्विस मुहैया कराने वाली उबर और ओला के खिलाफ जीएसटी की चोरी को लेकर जांच शुरू करने के एक दिन बाद यह कदम सामने आया है. डीजीजीआई ने करोड़ों रुपये की जीएसटी चोरी के मामले में कंपनियों के अधिकारियों को तलब किया है.

First Published : 13 Jan 2021, 07:02:11 AM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.