News Nation Logo
Banner

एयरटेल के शेयर धारकों के लिए बड़ी खबर, कार्लाइल समूह खरीद रहा है 25 फीसदी हिस्सा

एयरटेल (Airtel) के साथ समझौता पूरा होने पर कार्लाइल समूह (Carlyle Group) की उद्योग में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी और बाकी 75 प्रतिशत हिस्सेदारी एयरटेल के पास रहेगी.

Bhasha | Updated on: 01 Jul 2020, 11:45:57 AM
AIRTEL

एयरटेल (Airtel) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

कार्लाइल समूह (Carlyle Group) एयरटेल (Airtel) के डेटा सेंटर के व्यवसाय ‘नेक्सट्रा डेटा’ में 23.5 करोड़ डॉलर (करीब 1,780 करोड़ रुपये) में 25 फीसदी हिस्सेदारी खरीदेगा. कंपनी ने बधुवार को एक बयान में यह जानकारी दी. ऐसे में नेक्सट्रा का मूल्यांकन 1.2 अरब डॉलर होने की संभावना है, जो 9,084 करोड़ रुपये से अधिक है. समझौता पूरा होने पर कार्लाइल की उद्योग में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी और बाकी 75 प्रतिशत हिस्सेदारी एयरटेल के पास रहेगी. भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने एक बयान में कहा कि भारती एयरटेल और कम्फर्ट इनवेस्टमेंट्स ने आज एक समझौते की घोषणा की, जिसके तहत कम्फर्ट इनवेस्टमेंट्स नेक्सट्रा डेटा लिमिटेड में 23.5 करोड़ डॉलर निवेश करेगी, जो एयरटेल की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है और डेटा सेंटर कारोबार में शामिल है.

यह भी पढ़ें: 2011 के बाद पहली बार 1,800 डॉलर के ऊपर पहुंचा सोना, भारत में भी रिकॉर्ड ऊंचाई पर भाव

नेक्स्ट्रा के देश भर में 10 बड़े डेटा सेंटर और 120 से अधिक एज डेटा सेंटर
कम्फर्ट इनवेस्टमेंट्स निवेश कोष प्रबंधक कैप वी मॉरिशस लिमिटेड की एक संबद्ध इकाई है, जो कार्लाइल समूह से संबद्ध संस्थाओं द्वारा प्रबंधित है. इस सौदे के लिए नियामक मंजूरियां ली जानी हैं, जिसमें भारत के प्रतिस्पर्धा आयोग की मंजूरी भी शामिल है. नेक्सट्रा का मुख्यालय नई दिल्ली में है. यह प्रमुख भारतीय तथा वैश्विक उद्यमों, स्टार्टअप, छोटे तथा मध्यम व्यवसायों और सरकारों को डेटा सेंटर सेवाएं प्रदान करता है. बयान में कहा गया कि नेक्स्ट्रा के देश भर में 10 बड़े डेटा सेंटर और 120 से अधिक एज डेटा सेंटर हैं, जो ग्राहकों को को-लोकेशन सेवाएं, क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर, मैनेज्ड होस्टिंग, डेटा बैकअप, डिजास्टर रिकवरी और रिमोट इंफ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट जैसी सेवाएं मुहैया कराते हैं.

यह भी पढ़ें: Gold Rate Today: सोने-चांदी में हर गिरावट पर खरीदारी की सलाह दे रहे हैं एक्सपर्ट्स, देखें आज की बेहतरीन ट्रेडिंग कॉल्स 

बयान में कहा गया कि भारत में सुरक्षित डेटा केंद्रों की मांग में तेजी से बढ़ रही है और डिजिटल सेवाओं के लिए उपभोक्ता मांग में वृद्धि जारी है. बयान में आगे कहा गया कि डेटा को स्थानीय स्तर पर स्टोर करने के सरकार के निर्देश के बाद पूरे क्षेत्र में मांग तेजी से बढ़ी है. नेक्सट्रा इस मांग को पूरा करने के लिए कई बड़े डेटा सेंटर का निर्माण कर रहा है. बयान के मुताबिक कंपनी ने पिछले साल पुणे में एक डेटा सेंटर की स्थापना की थी और चेन्नई, मुंबई और कोलकाता में नए सेंटर का निर्माण कर रही है. बयान के मुताबिक नेक्सट्रा इस सौदे से हुई आय का इस्तेमाल पूरे देश में अपने बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए करेगी.

यह भी पढ़ें: लगातार दूसरे दिन पेट्रोल-डीजल की कीमतों में नहीं हुआ बदलाव, जानिए आपके शहर में किस भाव पर मिल रहा है तेल 

इस सौदे पर टिप्पणी करते हुए भारती एयरटेल के एमडी और सीईओ (भारत और दक्षिण एशिया) गोपाल विट्टल ने कहा कि एयरटेल में हमने एक मजबूत डेटा सेंटर पोर्टफोलियो बनाया है जो भविष्य के लिए तैयार है. हमारे ग्राहकों की सुरक्षा और डेटा गोपनीयता, हमारे लिए सर्वोच्च प्राथमिकताएं हैं. उन्होंने कहा कि तेजी से डिजिटलीकरण ने भारत में डेटा सेंटरों के लिए बड़े पैमाने पर विकास के अवसर खोले हैं और हम इस खंड में एक प्रमुख भागीदार बनने के लिए अपने निवेश में तेजी लाने की योजना बना रहे हैं. कार्लाइल एशिया पार्टनर्स की सलाहकार टीम के प्रबंध निदेशक नीरज भारद्वाज ने कहा कि हम नेक्स्ट्रा की पूरी क्षमता को उजागर करने के लिए एयरटेल के साथ सहयोग करने के लिए तत्पर हैं. कार्लाइन ने 31 मार्च 2020 तक भारत में 2.5 अरब डॉलर से अधिक का निवेश किया है और उसे भारतीय बाजार में निवेश का गहरा अनुभव है.

First Published : 01 Jul 2020, 11:45:57 AM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×