News Nation Logo

भारत बंद का कोई असर नहीं, देशभर के बाजार पूरी तरह खुले, CAIT का बयान

कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (Confederation of All India Traders-CAIT) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने किसान नेताओं को सलाह दी है की वो संघर्ष का रास्ता छोड़कर सरकार से बातचीत के रास्ते तलाशें.

Business Desk | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 27 Sep 2021, 01:14:38 PM
Bharat Bandh-CAIT-The Confederation of All India Traders

Bharat Bandh-CAIT-The Confederation of All India Traders (Photo Credit: IANS )

highlights

  • भारत बंद को लेकर किसी भी किसान संगठन ने हमसे संपर्क नहीं किया: CAIT
  • आजादी के 75 वर्ष बाद भी देश का किसान नुकसान की खेती कर रहा है: CAIT

नई दिल्ली:

Bharat Bandh On 27 September 2021: विभिन्न किसान संगठनों द्वारा आज देश भर में भारत बंद के आह्वान के बाद भी दिल्ली सहित देशभर के बाज़ारों में कोई असर नहीं हुआ. दिल्ली सहित सारे बाजार पूरी तरह खुले रहें और बाज़ारों में कारोबारी गतिविधियां सामान्य रूप से चलीं. कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (Confederation of All India Traders-CAIT) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने किसान नेताओं को सलाह दी है की वो संघर्ष का रास्ता छोड़कर सरकार से बातचीत के रास्ते तलाशें. भरतिया एवं खंडेलवाल ने बताया की भारत बंद को लेकर किसी भी किसान संगठन ने न तो हमसे संपर्क किया एवं न ही व्यापारियों द्वारा किसानों के मुद्दे पर व्यापार बंद करने का कोई मन है. 

यह भी पढ़ें: बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (Balanced Advantage Fund) की हर तरफ हो रही चर्चा, निवेश से पहले इन बातों का रखें ध्यान

उन्होंने कहा की अड़ियल रूख से किसी भी समस्या का समाधान संभव नहीं है. यह सत्य है की किसान आंदोलन अब अप्रासंगिक हो गया है और इसके कथित  रूप से लम्बे चलने से देश के किसानों का बड़ा नुकसान हो रहा है. भरतिया एवं खंडेलवाल ने कहा की इसमें कोई शक नहीं है की आजादी के 75 वर्ष बाद भी देश का किसान नुकसान की खेती कर रहा है. कृषि से जुड़े सभी वर्गों को एक साथ बैठकर किसान की खेती लाभ की खेती में कैसे बदले, यह प्रयास करना आवश्यक है. 

सरकार भी इसमें सहयोग दे यह भी जरूरी है. उन्होंने कहा की किसान संगठनों को इस बारे में पहल करते हुए कृषि से जुड़े सभी वर्गों के साथ बातचीत का सिलसिला शुरू करना चाहिए. बता दें कि संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से बुलाए गए बंद में लोगों से शामिल होने की अपील की है. किसानों के भारत बंद का कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने भी समर्थन किया है. संयुक्त किसान मोर्चा ने दावा किया है कि 40 किसान संगठनों ने भारत बंद का समर्थन किया है. दिल्ली पुलिस ने भारत बंद के ऐलान के बाद 15 डिस्ट्रिक्ट की पुलिस को अलर्ट पर रखा है.

First Published : 27 Sep 2021, 01:14:09 PM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो