News Nation Logo
Banner

Aptech इनसाइडर ट्रेडिंग मामला: राकेश झुनझुनवाला समेत 10 लोगों ने केस सेटल किया

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक Aptech Ltd के अनपब्लिश्ड प्राइस सेंसिटिव इनफॉरमेशन (UPSI) से यह मामला जुड़ा हुआ है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 15 Jul 2021, 10:25:08 AM
Aptech इनसाइडर ट्रेडिंग मामला

Aptech इनसाइडर ट्रेडिंग मामला (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • राकेश झुनझुनवाला के पास Aptech Ltd की 24.24 फीसदी हिस्सेदारी
  • 7 सितंबर 2016 को Aptech ने प्रीस्कूल सेगमेंट में दाखिल होने की घोषणा की थी

मुंबई:

Aptech इनसाइडर ट्रेडिंग मामला: इनसाइडर ट्रेडिंग के एक मामले में देश के जाने माने निवेशक राकेश झुनझुनवाला और उनकी पत्नी रेखा झुनझुनवाला समेत 8 अन्य लोगों ने बाजार नियामक सेबी (SEBI) के साथ सेटलमेंट कर लिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक Aptech Ltd के अनपब्लिश्ड प्राइस सेंसिटिव इनफॉरमेशन (UPSI) से यह मामला जुड़ा हुआ है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राकेश झुनझुनवाला ने करीब 9.50 करोड़ रुपये चुकाकर मामले को सेटर किया है.  राकेश झुनझुनवाला और उनकी पत्नी रेखा झुनझुनवाला समेत 8 अन्य लोगों ने कुल 37 करोड़ रुपये की रकम को चुकाकर मामले को सेटर किया है. 

यह भी पढ़ें: Petrol Diesel Rate Today 15 July 2021: 2 दिन की राहत के बाद आज फिर पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़े, देखें रेट लिस्ट

राकेश झुनझुनवाला के पास Aptech Ltd की 24.24 फीसदी हिस्सेदारी
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राकेश झुनझुनवाला के पास Aptech Ltd की 24.24 फीसदी हिस्सेदारी है और इसकी कुल वैल्यू 160 करोड़ रुपये के आस-पास है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक Aptech ने 7 सितंबर 2016 को शेयर बाजार बंद होने के बाद घोषणा की थी कि वह प्रीस्कूल सेगमेंट में दाखिल होने जा रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सेबी के अनुसार 14 मार्च 2016 से लेकर 7 सितंबर 2016 के बीच UPSI यानी इनसाइडर ट्रेडिंग की गई थी.

यह भी पढ़ें: Gold Silver Rate Today 15 July 2021: आज महंगे हो सकते हैं सोना-चांदी, जानिए जानकारों की राय

7 सितंबर 2016 को Aptech ने प्रीस्कूल सेगमेंट में दाखिल होने का किया था ऐलान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 7 सितंबर 2016 को Aptech ने प्रीस्कूल सेगमेंट में दाखिल होने की घोषणा की थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राकेश झुनझुनवाला और उनकी पत्नी रेखा झुनझुनवाला समेत आठ अन्य लोगों के ऊपर यह आरोप था कि उन्हें कंपनी की इस योजना की जानकारी पहले से ही थी. इन लोगों ने इस जानकारी के सार्वजनिक होने से पहले अपने फायदे के लिए इस जानकारी का इस्तेमाल किया था.

यह भी पढ़ें: RBI ने मास्टरकार्ड पर नए डेबिट, क्रेडिट कार्ड इश्यू करने पर लगाई रोक, जानिए क्या है मामला

First Published : 15 Jul 2021, 10:25:08 AM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.