News Nation Logo
अनन्या पांडे से सोमवार को फिर पूछताछ करेगी NCB अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी कार्यालय से रवाना हुईं, करीब 4 घंटे चली पूछताछ DRDO ने ओडिशा के चांदीपुर रेंज से हाई-स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट (HEAT) का सफल परीक्षण किया कल जम्मू-कश्मीर जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक 27 अक्टूबर को, छठ पूजा उत्सव के लिए ली जाएगी अनुमति 1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक

अमेजन का घूस कांड: लीगल फीस के नाम पर दी गई बड़ी रकम

अमेरिकन ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) पर बड़ा आरोप लगा है. अमेजन (Amazon Bribe Case) पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं. एक अमेरिकी वेबसाइट के अनुसार अमेजन ले पिछले दो वित्तीय सालों में 42 हजार करोड़ रुपए की इनकम की है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 21 Sep 2021, 06:09:57 PM
Amazon India

Amazon India (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

अमेरिकन ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) पर बड़ा आरोप लगा है. अमेजन (Amazon Bribe Case) पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं. एक अमेरिकी वेबसाइट के अनुसार अमेजन ले पिछले दो वित्तीय सालों में 42 हजार करोड़ रुपए की इनकम की है. आरोप है कि अमेजन संबंधित अधिकारियों को रिश्वत देता था. बताया जा रहा है कि इस दौरान कंपनी ने आठ हजार पांच सौ करोड़ रुपए लीगल फीस के रूप में चुकाई है. कैट के प्रवीण खंडेलवाल ने आरोप लगाया है. अमेजन की इंडियन ब्रांच ने रिश्वत के आरोपों का सामना करने के बाद अपनी कानूनी टीम के खिलाफ आंतरिक जांच शुरू कर दी है. कंपनी का दावा है कि उसने रिश्वतखोरी के आरोपों को गंभीरता से लिया है. इसके साथ ही कंपनी जांच के बाद दोषियों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करेगी. वहीं, भारतीय व्यापारी महासंघ की ओर से मामले में सीबीआई जांच की मांग की गई है.

इस दौरान भ्रष्टाचार के खिलाफ "ज़ीरो टॉलरेंस" की नीति पर जोर देते हुए कहा कि अमेजन भ्रष्टाचार मामले में जांच कराई जाएगी. सरकार ने कहा कि भ्रष्टाचार को किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. आपको बता दें कि अमेजन इंडिया पर आरोप लगा है कि कंपनी की ओर से भुगतान की गई लीगल फीस का यूज देश में विभिन्न स्तरों पर संंबंधित अधिकारियों को रिश्वत में हुआ था. अमेजन द्वारा दो वित्तीय वर्षों 2018-19 और 2019-20 के बीच लीगल फीस के रूप में भुगतान की गई राशि उसके कुल राजस्व का 20.3 प्रतिशत के बराबर है. ऐसे में रिश्वतखोरी की इन आरोपों ने देश में अमेज़न की चिंता बढ़ा दी है.

वहीं, अमेजन कंपनी ने इस मामले में आंतरिक रूप से जांच करने की बात कही है. आरोप है कि 2018-19 और 2019-20 में अमेजन के कुल राजस्व 42,085 करोड़ रुपये के खिलाफ लीगल फीस के रूप में 8,456 करोड़ रुपए का पेमेंट किया गया था. अमेजन की ओर से कहा गया कि कंपनी के एक वरिष्ठ कार्पोरेट वकील राहुल सुंदरम को अवकाश पर भेज दिया गया है. भारतीय व्यापारी महासंघ (कैट)ने इस मामले में सीबीआई जांच की डिमांड की है. कैट ने इस संबंध में केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल को एक पत्र भी लिखा है. कैट ने कहा है कि करप्शन में लिप्त अधिकारियों के नामों का खुलासा किया जाना चाहिए. कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया और महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि इस बात पर भी गौर की जाने चाहिए कि क्या कथित रिश्वत का अमेजन के खिलाफ वाली जांच से कोई ताल्लुक है.

 

First Published : 21 Sep 2021, 05:41:17 PM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो