News Nation Logo
Breaking
Banner

2020 में किस भाव पर बिकेंगे सोना-चांदी, जानिए बड़े ब्रोकरेज हाउसेज का अनुमान

देश के बड़े ब्रोकरेज हाउसेज ने 2020 के लिए सोने में 42,000 रुपये से 45,000 रुपये का लक्ष्य दिया है. वहीं दूसरी ओर चांदी के लिए 50,000 रुपये से 55,000 रुपये का लक्ष्य दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 07 Jan 2020, 02:36:58 PM
Gold Silver Target In 2020

Gold Silver Target In 2020 (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

Gold Silver Target In 2020: सोने और चांदी में जारी मौजूदा तेजी क्या आगे भी जारी रहेगी और इस साल यानि कि वर्ष 2020 में सोने-चांदी का लक्ष्य क्या रहेगा. इस पर देश के बड़े ब्रोकरेज हाउस ने अपनी राय दी है. आज की इस रिपोर्ट में हम 2020 में सोने और चांदी की चाल को समझने की कोशिश करेंगे. देश के बड़े ब्रोकरेज हाउसेज ने 2020 के लिए सोने में 42,000 रुपये से 45,000 रुपये का लक्ष्य दिया है. वहीं दूसरी ओर चांदी के लिए 50,000 रुपये से 55,000 रुपये का लक्ष्य दिया है.

यह भी पढ़ें: एयर इंडिया को लेकर बड़ी खबर, एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट के ड्राफ्ट को मंजूरी, सूत्रों के हवाले से खबर

45 हजार भी हो सकता है सोना
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 10 फीसदी बोकर्स का मानना है कि 2020 में सोना 40 हजार रुपये के ऊपर बना रहने की संभावना है. 30 फीसदी ब्रोकर्स के मुताबिक सोना 42 हजार रुपये और 20 फीसदी ब्रोकर्स का मानना है कि सोना 43 हजार रुपये के स्तर तक जा सकता है. 20 फीसदी ब्रोकर्स का कहना है कि सोने में 44 हजार रुपये और 20 फीसदी ब्रोकर्स ने 45 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम का लक्ष्य दिया है.

यह भी पढ़ें: सोना (Gold) और बॉन्ड यील्ड (Bond Yield) में क्या है संबंध, जानिए इसकी हर बारीकी

55,000 रुपये बिक सकती है चांदी
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 2020 में चांदी का भाव 55,000 रुपये तक जा सकता है. 30 फीसदी ब्रोकर्स का मानना है कि 2020 में चांदी 50,000 रुपये प्रति किलो, 30 फीसदी ब्रोकर्स ने 52,000 रुपये और 20 फीसदी ब्रोकर्स ने 53,000 रुपये तक का लक्ष्य दिया है. 20 फीसदी ब्रोकर्स ने अनुमान लगाया है कि इस साल चांदी का भाव 55,000 रुपये हो सकता है.

यह भी पढ़ें: अनिल अंबानी के लिए खुशखबरी, इस मामले में मिली बड़ी राहत

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जानकारों का कहना है कि 2020 में अमेरिकी फेडरल रिजर्व वापस ब्याज दरें घटा सकता है. ऐसे में सोने और चांदी की कीमतों में तेजी देखने को मिल सकती हैं. ग्लोबल ग्रोथ की चिंता से भी बुलियन मार्केट को सपोर्ट मिल सकता है. अमेरिका-चीन के बीच ट्रेड वॉर और जियो पॉलिटिकल तनाव बना रहने की आशंका बरकरार है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि 2020 में सेंट्रल बैंकों की सोने में खरीदारी जारी रह सकती है. वहीं घरेलू बाजार में रुपये में कमजोरी और शादियों में मांग बढ़ने की वजह से सोने-चांदी की कीमतों को सपोर्ट मिलता रहेगा. बता दें कि 2019 में सोने ने 22 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है, जबकि चांदी ने 15 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है.

First Published : 07 Jan 2020, 02:34:17 PM

For all the Latest Business News, Gold-Silver News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.