News Nation Logo

शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में मजबूती, सेंसेक्स 72.87 और निफ्टी13.45 ने अंकों के साथ बनाई बढ़त

प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.52 बजे 72.87 अंकों की मजबूती के साथ 32,905.81 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 13.45 अंकों की बढ़त के साथ 10,135.25 पर कारोबार करते देखे गए।

IANS | Edited By : Deepak Kumar | Updated on: 04 Dec 2017, 11:53:50 AM
शेयर मार्केट में मज़बूती

मुंबई:

देश के शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में सोमवार को मजबूती का रुख है।

प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.52 बजे 72.87 अंकों की मजबूती के साथ 32,905.81 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 13.45 अंकों की बढ़त के साथ 10,135.25 पर कारोबार करते देखे गए। 

बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 135.08 अंकों की बढ़त के साथ 32968.02 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 53.25 अंकों की मजबूती के साथ 10,175.05 पर खुला।

देश के शेयर बाजारों में अगले सप्ताह निवेशकों की नजर आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) द्वारा ब्याज दरों पर किए जाने वाले फैसले पर रहेगी।

इसके अलावा घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों के रुझान, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) और घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) के रुख, डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतें बाजार की चाल तय करेंगी।

इंफोसिस के नए CEO और MD बने सलिल एस पारेख, विशाल सिक्का के इस्तीफे के बाद खाली थी पोस्ट

आरबीआई की मौद्रिक नीति समीक्षा (एमपीसी) मंगलवार को होनी है। एमपीसी ने चार अक्टूबर (2017) को हुई अपनी पिछली बैठक में रेपो रेट को छह फीसदी पर बरकरार रखा था। साथ ही रिवर्स रेपो रेट को 5.75 फीसदी पर रखा था।

अगले सप्ताह मंगलवार को मल्टी-स्पेशियिलटी हॉस्पिटल चेन शालबाई अपना आईपीओ लेकर आएगी। शालबाई ने अपने आईपीओ का प्राइस बैंड 245-248 रुपये प्रति शेयर तय किया है। यह आईपीओ गुरुवार को बंद होगा। 

व्यापक आर्थिक मोर्चे पर मार्किट इकॉनामिक्स भारत के सेवा क्षेत्र के नवंबर के आंकड़े मंगलवार को जारी करेगी। 

इंफोसिस का बायबैक बोनांजा, 13,000 करोड़ रुपये तक के शेयरों को वापस खरीदेगी कंपनी

First Published : 04 Dec 2017, 11:36:22 AM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.