News Nation Logo

राज्यों की 10 साल की उधारी लागत पिछले सप्ताह से 15 आधार अंकों से अधिक गिरी

राज्यों की 10 साल की उधारी लागत पिछले सप्ताह से 15 आधार अंकों से अधिक गिरी

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 03 Aug 2022, 03:45:01 PM
Rupee

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

मुंबई:   बेंचमार्क सरकारी बॉन्ड पर प्रतिफल में भारी गिरावट के बाद पिछले सप्ताह से राज्यों के विकास ऋण (एसडीएल) की उधार लागत में 10 साल की परिपक्वता के साथ 15 आधार अंकों से अधिक की गिरावट आई है।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के आंकड़ों के अनुसार, राज्यों के लिए 10 साल की भारी औसत उधारी लागत 2 अगस्त को 7.65 प्रतिशत थी, जो पिछले सप्ताह में 7.80 प्रतिशत से कम दर्ज की गई थी। इसके अनुसार, 10-वर्षीय एसडीएल और जी-सेक के भारित औसत कट-ऑफ के बीच का प्रसार पहले के 45 आधार अंकों से कम होकर 40 आधार अंकों से कम हो गया।

जेएम फाइनेंशियल के एमडी और हेड इंस्टीट्यूशनल फिक्स्ड इनकम, अजय मंगलुनिया ने कहा, हमारे बाजार में यील्ड 7.37 फीसदी से गिरकर 7.23 फीसदी पर आ गई है और पिछले कुछ दिनों में फेड की कम हॉकिश टोन और सॉफ्टनिंग क्रूड के कमेंट्री से संकेत लेने से यूएस यील्ड में काफी तेजी आई है। मुद्रास्फीति के बढ़ते डर ने व्यापारियों को निवेश के लिए कॉल करने के लिए प्रेरित किया है और इसके परिणामस्वरूप प्रतिफल नीचे गिरा है।

ब्रेंट क्रूड ऑयल की कीमतें मंगलवार को भारतीय बाजार समय तक 100 डॉलर प्रति बैरल के प्रमुख मनोवैज्ञानिक निशान से नीचे रहीं। वहीं, अमेरिकी ट्रेजरी नोटों पर यील्ड सोमवार को सात आधार अंक गिरकर 2.60 फीसदी पर आ गई।

आईएएनएस के एक सर्वेक्षण में, विभिन्न अर्थशास्त्रियों और फंड प्रबंधकों को उम्मीद थी कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की दर-निर्धारण समिति अगस्त की मौद्रिक नीति बैठक में रेपो रेट में 25-50 आधार अंकों की बढ़ोतरी कर सकती है।

बाजार सहभागियों को उम्मीद है कि एसडीएल पर प्रतिफल आने वाले दिनों में नीतिगत बैठक तक सीमित रहेगा और केंद्रीय बैंक के मार्गदर्शन के बाद मूवमेंट देखा जाएगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 03 Aug 2022, 03:45:01 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.