News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

पीयूष गोयल ने पहले स्टार्टअप इंडिया इनोवेशन वीक का किया उद्घाटन

पीयूष गोयल ने पहले स्टार्टअप इंडिया इनोवेशन वीक का किया उद्घाटन

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 10 Jan 2022, 05:05:01 PM
Piyuh Goel

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने सोमवार को पहले स्टार्टअप इंडिया इनोवेशन वीक का उद्घाटन किया। इसका मकसद देश के प्रमुख स्टार्टअप, उद्यमियों, निवेशकों, इनक्यूबेटरों, फंडिंग संस्थाओं, बैंकों, नीति निर्माताओं आदि को एक मंच के तहत उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए एक साथ लाना है।

उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) जनवरी 10-16 से पहली बार स्टार्टअप इंडिया इनोवेशन वीक का आयोजन कर रहा है। इस आभासी सप्ताह भर चलने वाले नवाचार उत्सव का उद्देश्य भारत की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष आजादी का अमृत महोत्सव का जश्न मनाना है और इसे पूरे भारत में उद्यमिता के प्रसार और गहराई को प्रदर्शित करने के लिए डिजाइन किया गया है।

गोयल ने कहा कि उनका मंत्रालय अब एक घंटे में कम से कम चार स्टार्टअप को मान्यता देने की स्थिति में है और सरकार ने अब तक 60,000 से अधिक स्टार्टअप को मान्यता दी है। युवा उद्यमियों, इनोवेटर्स, इन्क्यूबेटरों, फंडिंग संस्थाओं को प्रेरित करते हुए गोयल ने कहा, हम सभी को असफलताओं को सफलता की सीढ़ी के रूप में लेना चाहिए और तीन लक्ष्यों- मेक-इन-इंडिया को मजबूत करना, नवाचार और युवा प्रतिभाओं को सलाह देना पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

टियर-2 और टियर-3 शहरों से स्टार्टअप्स की भागीदारी के बारे में डेटा साझा करते हुए, गोयल ने स्थापित स्टार्टअप्स से उन्हें सलाह देने के लिए आगे आने और उनके अभिनव विचारों को विकसित करने में मदद करने का आग्रह किया।

ग्लोबल इनोवेशन हब के रूप में उभरता हुआ भारत अब दुनिया के तीसरे सबसे बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम का दावा कर रहा है। डीपीआईआईटी ने अब तक 60,000 से अधिक स्टार्टअप को मान्यता दी है।

देश के हर राज्य और केंद्र शासित प्रदेश से कम से कम एक स्टार्टअप के साथ 633 जिलों में फैले 55 उद्योगों का प्रतिनिधित्व करने वाले भारतीय स्टार्टअप ने 2016 से छह लाख से अधिक नौकरियों का सृजन किया है। 45 प्रतिशत स्टार्टअप टियर -2 और टियर -3 शहरों से हैं और उनमें से 45 प्रतिशत का प्रतिनिधित्व महिला उद्यमियों द्वारा किया जाता है। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने कहा कि स्टार्टअप्स में वैश्विक मूल्य श्रृंखलाओं में भारत के एकीकरण में तेजी लाने और वैश्विक प्रभाव पैदा करने की क्षमता है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 10 Jan 2022, 05:05:01 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो