News Nation Logo

पीएम मोदी अमेरिकी सीईओ से मिले, नई तकनीक में बड़े निवेश के लिए दिया न्योता (लीड-2)

पीएम मोदी अमेरिकी सीईओ से मिले, नई तकनीक में बड़े निवेश के लिए दिया न्योता (लीड-2)

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 24 Sep 2021, 12:10:01 AM
New Delhi

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

वाशिंगटन: अपनी अमेरिकी यात्रा के पहले चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को वाशिंगटन में कई प्रमुख अमेरिकी सीईओ से मुलाकात की।

उन्होंने सेमीकंडक्टर और वायरलेस प्रौद्योगिकी निमार्ता क्वालकॉम, सॉफ्टवेयर प्रमुख एडोब, अक्षय ऊर्जा फर्म फस्र्ट सोलर, हथियार निर्माता जनरल एटॉमिक्स और निवेश प्रबंधन कंपनी ब्लैकस्टोन के सीईओ के साथ आमने-सामने बैठकें कीं।

पहली बैठक क्वालकॉम के अध्यक्ष और सीईओ क्रिस्टियानो अमोन के साथ हुई।

पीएमओ ने ट्वीट किया, क्वालकॉम के अध्यक्ष और सीईओ क्रिस्टियानो अमोन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्पादक बातचीत की। पीएम मोदी ने भारत द्वारा प्रदान किए जाने वाले विशाल अवसरों पर प्रकाश डाला। श्री अमोन ने 5जी और अन्य जिजिटल इंडिया प्रयासों जैसे क्षेत्रों में भारत के साथ काम करने की इच्छा जताई।

अमोन ने कहा, हमने 5जी और 5जी के एक्लेरेशन के बारे में बात की। हमने उद्योग को आगे बढ़ाने के अविश्वसनीय अवसर के बारे में बात की, जैसा कि हम भारत में डिजाइन के साथ संयुक्त 5जी द्वारा सक्षम डिजिटल परिवर्तन के बारे में सोचते हैं।

उन्होंने कहा कि क्वालकॉम भारत की ओर देख सकता है, क्योंकि यह सेमीकंडक्टरों के लिए एक लचीला आपूर्ति श्रृंखला बनाता है, यदि देश में आवश्यक बुनियादी ढांचा प्रदान किया जाता है।

अमोन के साथ मोदी की मुलाकात महत्वपूर्ण है, क्योंकि भारत देश में 5जी तकनीक को तेजी से अपनाने पर विचार कर रहा है, जिसके लिए वह इस उच्च प्रौद्योगिकी क्षेत्र में विश्वसनीय भागीदारों से निवेश पर नजर गड़ाए हुए है जो सुरक्षित और सुरक्षित नेटवर्क दे सकते हैं।

सैन डिएगो स्थित कंपनी वायरलेस तकनीक से संबंधित सेमीकंडक्टर और सॉफ्टवेयर बनाती है और अपने अग्रणी उत्पादों की श्रृंखला के साथ 5जी तकनीक में आगे बढ़ रही है।

उम्मीद की जाती है कि उच्चस्तरीय बैठकें नए तकनीकी क्षेत्र में बड़े निवेश का मार्ग प्रशस्त करेंगी जो देश को अपने नागरिकों को अगली पीढ़ी की नेटवर्किं ग सेवाएं देने में मदद करने के लिए जरूरी है।

प्रधानमंत्री ने एडोब के अध्यक्ष और सीईओ शांतनु नारायण से भी मुलाकात की। युवाओं को स्मार्ट शिक्षा प्रदान करने और अनुसंधान को बढ़ाने के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने पर चर्चा हुई। उन्होंने देश के युवाओं द्वारा संचालित भारत में जीवंत स्टार्टअप क्षेत्र पर भी चर्चा की।

बैठक के बाद नारायण ने कहा, पीएम मोदी का मानना है कि प्रौद्योगिकी चीजों को आगे बढ़ने में मदद करने का तरीका है। उन्होंने कहा कि कंपनी का इरादा भारत में भारी निवेश जारी रखने का है।

फस्र्टसोलर के सीईओ मार्क विडमार ने भी मोदी से मुलाकात की। बैठक के दौरान, मोदी ने वन वल्र्ड, वन सन एंड वन ग्रिड पहल और इस क्षेत्र में निवेश के अवसरों सहित सौर ऊर्जा के दोहन के लिए भारत के प्रयासों के बारे में विस्तार से बताया।

विडमार ने कहा, भारत की औद्योगिक और व्यापार नीतियों के बीच बनाए गए मजबूत संतुलन ने फस्र्टसोलर जैसी कंपनियों के लिए भारत में विनिर्माण स्थापित करने के लिए आदर्श अवसर पैदा किए हैं। उत्पादकता से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजनाएं भारत को अमेरिका से विनिर्माण में अधिक निवेश आकर्षित करने में मदद करेंगी।

जनरल एटॉमिक्स ग्लोबल कॉर्पोरेशन के विवेक लाल के साथ पीएम की चर्चा सुधारों और पीएलआई योजना सहित ड्रोन प्रौद्योगिकी में भारत की प्रगति के इर्द-गिर्द घूमती रही।

लाल ने कहा, सहयोग के कई संभावित क्षेत्र हैं, जिनके साथ हम चर्चा कर रहे हैं। अवसर दोनों देशों के लिए फायदे का सौदा हैं।

भारत अपने सशस्त्र बलों की तीनों शाखाओं के लिए महत्वपूर्ण संख्या में ड्रोन खरीदने की प्रक्रिया में है। इसने जनरल एटॉमिक्स से कुछ ड्रोन भी लीज पर लिए हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 24 Sep 2021, 12:10:01 AM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो