News Nation Logo
भारत का लगातार तीसरा झटका, सूर्य कुमार यादव भी आउट प्रकाश झा की अपकमिंग मूवी आश्रम-3 की शूटिंग के दौरान बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 13 ओवर में 4 विकेट खोकर 87 रन बनाए T20: पाकिस्तान के खिलाफ भारत के 100 रन पूरे ICC T20 World Cup: विराट कोहली ने दिखाई बल्लेबाजी की क्लास, 18 गेंदों पर ठोके नाबाद 20 रन ICC T20 World Cup: 4 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर भारत ने बनाए 21 रन रोहित बिना खाता खोले आउट प्रभाकार कोर्ट में जवाब दें, सोशल मीडिया पर नहीं: एनसीबी प्रभाकर का एफिडेविट एनसीबी के डीजी को भेजा गया: एनसीबी आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव पहुंचे पटना, बेटों ने किया स्वागत जम्मू-कश्मीर: अमित शाह ने मकवाल में स्थानीय निवासियों के साथ बातचीत की 70 साल तीन परिवार वालों ने जम्मू-कश्मीर पर राज किया, आपने क्या दिया हिसाब दो: गृहमंत्री अमित शाह

एयर इंडिया का विनिवेश: टाटा को मिलेंगे 141 विमान, 8 ब्रांड के लोगो, आकर्षक रूट

एयर इंडिया का विनिवेश: टाटा को मिलेंगे 141 विमान, 8 ब्रांड के लोगो, आकर्षक रूट

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 08 Oct 2021, 11:25:02 PM
New Delhi

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: टाटा संस की सहायक कंपनी टैलेस, जो राष्ट्रीय वाहक एयर इंडिया के लिए सबसे अधिक बोली लगाने वाली कंपनी के रूप में उभरी है, उनको मानव संसाधन जैसी अन्य संपत्तियों के साथ-साथ 140 से अधिक विमान और साथ ही 8 लोगो मिलेंगे।

टैलेस ने एयर इंडिया एक्सप्रेस और एआईएसएटीएस के साथ एयर इंडिया में केंद्र की 100 प्रतिशत इक्विटी हिस्सेदारी के लिए 18,000 करोड़ रुपये की बोली लगाई है।

अधिग्रहण के परिणामस्वरूप, टाटा एयर इंडिया में 100 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ-साथ इसकी सहायक एयर इंडिया एक्सप्रेस में 100 प्रतिशत और संयुक्त उद्यम एयर इंडिया एसएटीएस में 50 प्रतिशत की हिस्सेदारी होगी।

विशेष रूप से, लेन-देन के बाद, टाटा संस के पास दो पूर्ण सेवा वाहक (विस्तारा और एयर इंडिया) के साथ-साथ दो कम लागत वाली एयरलाइंस (एयर इंडिया एक्सप्रेस और एयर एशिया इंडिया) और एक ग्राउंड और कार्गो हैंडलिंग कंपनी एआईएसएटीएस होगी।

बेड़े के संदर्भ में, टाटा को एयर इंडिया के 117 चौड़े और संकीर्ण बॉडी वाले विमान और एयर इंडिया एक्सप्रेस के 24 विमान मिलेंगे।

इन विमानों की एक बड़ी संख्या एयर इंडिया के स्वामित्व में है।

उन्होंने इन विमानों को 4,000 से अधिक घरेलू और 1,800 अंतर्राष्ट्रीय मार्गों पर संचालित करने का भी मौका मिलेगा।

टाटा समूह ने कहा, एयर इंडिया की एक अद्वितीय और आकर्षक अंतर्राष्ट्रीय पकड़ है। एयर इंडिया के राजस्व का 2/3 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय बाजार से आता है।

यह अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भारत का नंबर एक खिलाड़ी है, जो आकर्षक स्लॉट और द्विपक्षीय अधिकारों के साथ उत्तरी अमेरिका, यूरोप और मध्य पूर्व जैसे भौगोलिक क्षेत्रों में मजबूत पकड़ रखता है।

एयर इंडिया के फ्ऱीक्वेंट ़फ्लायर प्रोग्राम में 30 लाख से अधिक सदस्य हैं।

इसके अलावा, समूह को एयर इंडिया और एयर इंडिया एक्सप्रेस का कुल टैलेंट पूल मिलेगा, जो स्थायी और संविदा दोनों कर्मचारियों सहित 13,500 है।

इसके अलावा, आठ ब्रांड लोगो टाटा मिलेंगे, जिन्हें उन्हें पांच साल की अवधि के लिए रिटेल करना होगा।

वित्तीय मामले में, टाटा 15,300 करोड़ रुपये अपने पास रखेगा, जबकि बाकी का भुगतान केंद्र को नकद के रूप में किया जाएगा।

टाटा को प्रतिदिन 20 करोड़ रुपये के नुकसान का भी ध्यान रखना होगा, जो कंपनी को हो रहा है।

बहरहाल, टाटा को विनिवेशित संस्थाओं का पूर्ण परिचालन नियंत्रण दिया जाएगा।

दूसरी ओर, लेन-देन में भूमि और भवन सहित गैर-प्रमुख संपत्ति शामिल नहीं है, जिसका मूल्य 14,718 करोड़ रुपये है, जिसे भारत सरकार की एयर इंडिया एसेट होल्डिंग लिमिटेड (एआईएएचएल) को हस्तांतरित किया जाना है।

टाटा संस के अध्यक्ष एन. चंद्रशेखरन के अनुसार, टाटा समूह में, हमें एयर इंडिया के लिए बोली के विजेता के रूप में घोषित होने की खुशी है। यह एक ऐतिहासिक क्षण है और हमारे समूह के लिए देश की ध्वजवाहक एयरलाइन का स्वामित्व और संचालन करना एक खास विशेषाधिकार होगा।

यह एक विश्व स्तरीय एयरलाइन बनाने का हमारा प्रयास होगा, जो प्रत्येक भारतीय को गौरवान्वित करे। इस अवसर पर, मैं भारतीय विमानन के अग्रणी जे.आर.डी. टाटा को श्रद्धांजलि देना चाहता हूं, जिनकी स्मृति हम संजोते हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 08 Oct 2021, 11:25:02 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.