News Nation Logo
Banner

कोरोना वायरस: मोदी सरकार कर सकती है भारी-भरकम पैकेज का ऐलान, निर्मला सीतारमण की प्रेस कांफ्रेंस 2 बजे

वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) आज दोपहर दो बजे आर्थिक पैकेज को लेकर वीडियो प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रही हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 24 Mar 2020, 01:37:58 PM
nirmala sitharaman1

कोरोना वायरस: मोदी सरकार कर सकती है पैकेज का ऐलान (Photo Credit: FILE PHOTO)

नई दिल्‍ली:

दुनिया के कई देशों की ही तरह भारत भी जल्द ही आर्थिक राहत पैकेज का ऐलान कर सकता है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) आज दोपहर दो बजे आर्थिक पैकेज को लेकर वीडियो प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रही हैं. उन्होंने ट्वीट किया है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से हुए लॉकडाउन से होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए आर्थिक पैकेज लाने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर जल्द ही आर्थिक राहत पैकेज की घोषणा की जाएगी. वित्त मंत्री ने कहा कि वे आज दोपहर दो बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए वैधानिक और नियामक अनुपालन मामलों पर मीडिया के लोगों के संबोधित करेंगी.

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी की ‘ताली बजाओ’ अपील के चलते लोग नहीं समझ पा रहे लॉकडाउन की गंभीरता : शिवसेना

अमेरिकी अर्थव्यवस्था (US Economy) को बचाने के लिए लाए गए खरबों डॉलर के राहत पैकेज (Bailout Package) के प्रस्ताव को अमेरिकी सीनेट की मंजूरी नहीं मिल सकी. इस प्रस्ताव को डेमोक्रेटस की तरफ से कोई समर्थन नहीं मिला, जबकि कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के चलते पांच रिपब्लिकन सांसद अनुपस्थित रहे. डेमोक्रेट का कहना था कि रिपब्लिकन योजना लाखों अमेरिकी श्रमिकों को पर्याप्त सुरक्षा देने में विफल रही है और इसमें कोरोना वायरस संकट के दौरान पर्याप्त स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली को दरकिनार कर किया गया है.

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के अब तक करीब 500 मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार तक के आंकड़ों में यह संख्या सामने आई है. मंगलवार सुबह तक के अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक देश में कोविड-19 के कुल मामले 492 हो गए हैं जिनमें से 446 लोगों का अभी इलाज चल रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इन आंकड़ों में कम से कम 41 विदेशी नागरिक शामिल हैं और अब तक नौ मौत हो चुकी है.

यह भी पढ़ें : मध्‍य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फिर लगाई विपक्ष में सेंध, 112 विधायकों के साथ साबित किया बहुमत

पश्चिम बंगाल और हिमाचल प्रदेश में सोमवार को एक-एक मौत हुई जबकि पूर्व में हुई सात मौत महाराष्ट्र (दो), बिहार, कर्नाटक, दिल्ली, गुजरात और पंजाब में एक एक मौत हुई थी. देश में 22 नये मामले सामने आने के बाद कोविड-19 से अब भी संक्रमित लोगों की संख्या 446 है. पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के मामले अचानक बढ़ने के बाद अधिकारियों ने लगभग पूरे देश में लॉकडाउन (बंद) लागू कर दिया है जिसके तहत लोगों के एकत्र होने पर प्रतिबंध हैं और सड़क, रेल एवं हवाई यातायात पर 31 मार्च तक रोक लगा दी गई है.

मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक अब तक कोविड-19 के सबसे ज्यादा 95 मामले केरल से सामने आए हैं जिनमें आठ विदेशी नागरिक शामिल हैं. इसके बाद महाराष्ट्र से तीन विदेशी नागरिकों समेत 87 मामले सामने आए हैं. कर्नाटक में कोरोना वायरस के 37 मरीज हैं जबिक राजस्थान में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 33 हो गई है. इनमें दो विदेशी भी शामिल हैं. उत्तर प्रदेश में एक विदेशी नागरिक समेत 33 लोग संक्रमित हैं. तेलंगाना में 10 विदेशियों समेत अब तक 32 मामले सामने आए हैं. वहीं दिल्ली में संक्रमण के मामले बढ़कर 32 हो गए हैं जिनमें एक विदेशी नागरिक भी शामिल है जबकि गुजरात में 29 मामले सामने आए हैं.

यह भी पढ़ें : कोरोना की वजह से IPL 2020 पर मंडराया भयानक संकट, BCCI ने स्थगित की कॉन्फ्रेंस

हरियाणा में 14 विदेशी नागरिकों समेत 26 मामले हैं जबकि पंजाब से 21 मामले सामने आए हैं. लद्दाख में 13 जबकि तमिलनाडु में दो विदेशी नागरिकों समेत 12 मामले हैं. पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश और आंध्र प्रदेश से अब तक सात-सात मामले सामने आए हैं. चंडीगढ़ में छह और जम्मू-कश्मीर में चार मामले हैं. उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश दोनों में तीन-तीन मामले जबकि बिहार और ओडिशा में दो-दो लोग संक्रमण की चपेट में हैं. पुडुचेरी और चंडीगढ़ से एक-एक मामला सामने आया है.

First Published : 24 Mar 2020, 01:25:49 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×