News Nation Logo
विश्व प्रसिद्ध जगन्नाथ रथयात्रा की थोड़ी देर में शुरुआत, पढ़ें-15 रोचक तथ्यRead More » Manipur Landslide: 14 लोगों की मौत की पुष्टि, 23 बचाए गए; 60 अब भी लापताRead More » महाराष्ट्र: शनिवार को शिंदे सरकार का फ्लोर टेस्ट, असेंबली स्पीकर का भी होगा चुनावRead More » संजय राउत आज दोपहर 12 बजे ED के समक्ष पेश होने वाले हैं ढाई साल बाद पहली बार चीन से बाहर निकले शी जिनपिंग, हांगकांग पहुँचे जुमे की नमाज़ और उदयपुर की घटना को लेकर यूपी के कई शहरों में अलर्ट उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज रात 8:30 बजे दिल्ली आएंगे सीएम की शपथ से बाद देर रात एकनाथ शिंदे सीधे गोवा में होटल पहुंचे उदयपुर हत्याकांड के मद्देनजर उदयपुर के SP और IG उदयपुर रेंज को हटाया मुंबई के कई इलाकों में आज तेज बारिश को लेकर मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट शिव सेना के सुनील प्रभु ने बागियों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई आयकर विभाग ने शरद पवार को 2004, 2009, 2014 और 2020 में दायर चुनावी हलफनामों के संबंध में नोटिस भेजा बीजेपी सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ ने अखिलेश यादव को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी महाराष्ट्र: पात्रा चावल भूमि घोटाला मामले में शिवसेना नेता संजय राउत मुंबई में ED कार्यालय पहुंचे

GST के बाद उबर रहा मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र, सितंबर में दर्ज़ किया गया सुधार

देश के विनिर्माण क्षेत्र यानी मेनुफैक्चरिंग सेक्टर में सितंबर महीने में मामूली सुधार देखा गया है। विनिर्माण क्षेत्र में विस्तार घरेलू मांग बढ़ने और मजबूत आर्थिक आंकड़ों की वजह से आया है।

IANS | Edited By : Narendra Hazari | Updated on: 03 Oct 2017, 05:18:54 PM
विनिर्माण क्षेत्र (फाइल)

नई दिल्ली:  

देश के विनिर्माण क्षेत्र यानी मेनुफैक्चरिंग सेक्टर में सितंबर महीने में मामूली सुधार देखा गया है। विनिर्माण क्षेत्र में विस्तार घरेलू मांग बढ़ने और मजबूत आर्थिक आंकड़ों की वजह से आया है।

निक्केई इंडिया मैन्युफैक्च रिंग पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई), जो कि विनिर्माण क्षेत्र के प्रदर्शन का समग्र संकेतक है, सितंबर में 51.2 पर रहा, जबकि अगस्त में भी यह 51.2 ही था। इसमें आई तेजी इस क्षेत्र में सुधार का संकेत है।

इस सूचकांक में 50 से ऊपर का अंक आर्थिक गतिविधियों में सक्रियता का सूचक है, और 50 से नीचे का अंक कुल मिलाकर आर्थिक गतिविधियों में मंदी का सूचक है।

इस रपट की लेखिका और आईएचएस मार्केट की प्रमुख अर्थशास्त्री आशना डोधिया का कहना है, 'सितंबर के पीएमआई आंकड़ों से पता चलता है कि जीएसटी लागू होने के बाद आई बाधाओं से यह क्षेत्र लगातार उबर रहा है।'

और पढ़ें: तीन दिन की छुट्टी के बाद चुस्त मूड में शेयर बाज़ार, सेंसेक्स 200 अंक ऊपर

और पढ़ें: कमजोर ग्रोथ रेट के बावजूद बढ़ती महंगाई ने घटाई ब्याज दरों में कटौती की आस

First Published : 03 Oct 2017, 04:56:50 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.