News Nation Logo

BREAKING

Banner

खरीफ फसल से सुधरेगी अर्थव्यवस्था की हालत, गृहमंत्री अमित शाह का बड़ा बयान

अमित शाह (Amit Shah) का कहना है कि खरीफ की अच्छी फसल के कारण लगभग छह लाख करोड़ का नया ब्लड (इनफ्लो) बाजार में आएगा.

By : Dhirendra Kumar | Updated on: 17 Oct 2019, 10:16:45 AM
केंद्रीय गृहमंत्री (Home minister) अमित शाह (Amit shah)

केंद्रीय गृहमंत्री (Home minister) अमित शाह (Amit shah) (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:

केंद्रीय गृहमंत्री (Home minister) अमित शाह (Amit shah) को उम्मीद है कि देश को आर्थिक सुस्ती से उबारने में कृषि क्षेत्र (Agriculture Sector) का अहम योगदान होगा. उन्होंने कहा कि मानसून के दौरान अच्छी बारिश होने से खरीफ फसलों की पैदावार बढ़ेगी जिससे अर्थव्यवस्था की सेहत सुधरेगी. मानसून इस साल मेहरबान रहा है, जिससे खरीफ ही नहीं रबी फसलों की बुवाई का क्षेत्र बढ़ने की उम्मीद की जा रही है. इसका संकेत देश के कृषि वैज्ञानिकों ने भी दी है. लिहाजा, राजनेता आने वाले दिनों में अर्थव्यवस्था की सेहत सुधरने की उम्मीद कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: Rupee Open Today 17th Oct 2019: डॉलर के मुकाबले मजबूती के साथ खुला रुपया

खरीफ उत्पादन बढ़ने का अनुमान
उन्होंने कहा कि ईश्वर की कृपा से इस साल देश में मानसून के दौरान अच्छी बारिश हुई जिससे खरीफ सीजन के फसलों की पैदावार बढ़ेगी और कुछ ही दिनों खरीफ की नई फसल बाजार में आने वाली है. मेरा अंदाजा है कि खरीफ की अच्छी फसल के कारण लगभग छह लाख करोड़ का नया ब्लड (इनफ्लो) बाजार में आएगा. उन्होंने कहा कि देश की आर्थिक सुस्ती को सिर्फ भारत के तुलनात्मक आंकड़ों से नहीं आंकना चाहिए, बल्कि इसे वैश्विक परिदृश्य में देखा जाना चाहिए क्योंकि पूरी दुनिया मंदी के दौर से गुजर रही है जिससे भारत अछूता नहीं रह सकता है.

यह भी पढ़ें: Gold Price Today 17th Oct 2019: सोने-चांदी में आज उतार-चढ़ाव की आशंका, ट्रेडिंग के लिए क्या बनाएं रणनीति, जानें यहां

उन्होंने कहा कि मंदी आने के बाद वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने तीन महीने के भीतर देश के विभिन्न हिस्सों का दौरा कर इस संबंध में अनेक लोगों से सुझाव लिए है और उन्होंने अधिकारियों के साथ श्रेणीबद्ध बैठकें की हैं. शाह ने कहा कि इसके बाद वह मंदी का सामना करने के लिए पांच अलग-अलग पैकेज लेकर देश के सामने आई हैं.

यह भी पढ़ें: Petrol Price Today 17th Oct 2019: जानें आपके शहर किस भाव पर मिल रहा है पेट्रोल-डीजल, देखें पूरी लिस्ट

उन्होंने कहा कि वित्तमंत्री द्वारा उठाए गए एक के बाद एक कदम और खरीफ फसलों की अच्छी पैदावार से मैं देख रहा हूं कि मंदी से निकलने का रास्ता मिलेगा. हरियाणा के करनाल स्थित भारतीय गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान के निदेशक ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि मानसून के दौरान अच्छी बारिश आने वाले दिनों में रबी सीजन के फसलों की भी अच्छी पैदावार रह सकती है.

First Published : 17 Oct 2019, 09:46:47 AM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×