News Nation Logo

आर्थिक मोर्चे पर बिगड़े हालात, एक साल में 7% से घटकर 0.4% हुई कोर सेक्टर ग्रोथ रेट

आठ बुनियादी सेक्टर के ग्रोथ रेट से देश की अर्थव्यवस्था की हालत का अंदाजा लगाया जाता है। जून महीने में कोर सेक्टर की ग्रोथ रेट में आई जबरदस्त गिरावट अर्थव्यवस्था की चुनौतीपूर्ण तस्वीर पेश करती है।

News Nation Bureau | Edited By : Abhishek Parashar | Updated on: 31 Jul 2017, 09:24:05 PM
12 महीनों में 7 फीसदी से घटकर 0.4 फीसदी हो गई कोर सेक्टर की ग्रोथ रेट (फाइल फोटो)

highlights

  • जून महीने में देश के 8 बुनियादी उद्योगों (कोर सेक्टर) की ग्रोथ रेट कम होकर 0.4 फीसदी हो गई
  • पिछले साल जून महीने में 8 बुनियादी सेक्टर का ग्रोथ रेट 7 फीसदी थी
  • आठ बुनियादी सेक्टर के ग्रोथ रेट से देश की अर्थव्यवस्था की हालत का अंदाजा लगाया जाता है

नई दिल्ली:

जून महीने में देश के 8 बुनियादी उद्योगों (कोर सेक्टर) की ग्रोथ रेट कम होकर 0.4 फीसदी हो गई। पिछले साल जून महीने में 8 बुनियादी सेक्टर का ग्रोथ रेट 7 फीसदी थी। आठ बुनियादी सेक्टर में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफायनरी प्रॉडक्ट्स, फर्टिलाइजर, इस्पात, सीमेंट और बिजली उत्पादन शामिल है।

पिछले महीने मई में कोर सेक्टर के उत्पादन में 4.1 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी।

आठ बुनियादी सेक्टर के ग्रोथ रेट से देश की अर्थव्यवस्था की हालत का अंदाजा लगाया जाता है। जून महीने में कोर सेक्टर की ग्रोथ रेट में आई जबरदस्त गिरावट अर्थव्यवस्था की चुनौतीपूर्ण तस्वीर पेश करती है।

गौरतलब है कि पिछले वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही में जीडीपी की ग्रोथ रेट कम होकर 6.1 फीसदी हो गई। पिछले वित्त वर्ष 2016-17 की आखिरी तिमाही में ग्रोथ रेट के कम होकर 6.1 फीसदी होने की वजह से पूरे वित्त वर्ष के लिए जीडीपी की दर कम होकर 7.1 फीसदी हो गई।

पिछले साल जून में इन क्षेत्रों ने 7 फीसदी की वृद्धि दर हासिल की थी। पिछले साल जून महीने से तुलना की जाए तो इस साल बुनियादी उद्योगों के उत्पादन में मामूली इजाफा हुआ है। देश के औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) में इन बुनियादी उद्योगों की हिस्सेदारी करीब 40 फीसदी है।

SBI ने रिज़र्व बैंक की मौद्रिक नीति से पहले ही घटाईं दरें, 50 बेसिस प्वाइंट्स की कटौती

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले पिछले साल जून में कोयला उत्पादन में 6.7 फीसदी, फर्टिलाइजर उत्पादन में 3.6 फीसदी और सीमेंट उत्पादन में 5.8 फीसदी की गिरावट आई है।

जून 2016 के मुकाबले जून, 2017 में बिजली उत्पादन 0.7 फीसदी, इस्पात उत्पादन 5.8 फीसदी, प्राकृतिक गैस का उत्पादन 6.4 फीसदी और कच्चे तेल का उत्पादन 0.6 फीसदी बढ़ा है।

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया पर RBI ने लगाया 1 करोड़ रुपये का जुर्माना, KYC नियमों के उल्लंघन का आरोप

First Published : 31 Jul 2017, 07:01:44 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो