News Nation Logo
Banner

भारत ने अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध 31 जनवरी तक बढ़ाया (लीड-1)

भारत ने अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध 31 जनवरी तक बढ़ाया (लीड-1)

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 09 Dec 2021, 08:25:01 PM
India extend

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:   भारत के नागरिक उड्डयन नियामक डीजीसीए ने गुरुवार को शेड्यूल्ड अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध 31 जनवरी तक बढ़ा दिया है।

इससे पहले, भारत ने कुछ शर्तों के साथ 15 दिसंबर से शेड्यूल्ड वाणिज्यिक अंतर्राष्ट्रीय यात्री सेवाओं को फिर से शुरू करने की योजना की घोषणा की थी।

कोविड-19 के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए देश में अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों के परिचालन पर 31 जनवरी 2022 तक रोक लगाने का फैसला किया गया है। डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) की ओर से यह जानकारी दी गई है।

इससे पहले 1 दिसंबर को, केंद्रीय उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा था कि वह कोविड-19 के ओमिक्रॉन वैरिएंट से उभरने वाली स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहा है और हितधारकों के साथ परामर्श करते हुए सामान्य अंतर्राष्ट्रीय उड़ान संचालन को फिर से शुरू करने पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

इसके अलावा चुनिंदा देशों के साथ द्विपक्षीय एयर बबल समझौतों के तहत उड़ानें जारी रहेंगी।

गौरतलब है कि नियमित अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें 15 दिसंबर से शुरू होनी थीं, लेकिन ओमिक्रोन वैरिएंट की वजह से सरकार ने योजना में बदलाव करने का फैसला लिया है। पिछले साल 23 मार्च को कोविड-19 महामारी की वजह से सभी शेड्यूल्ड अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंधित लगा दिया गया था, जो अब भी जारी है।

डीजीसीए ने गुरुवार को अधिसूचना में कहा कि अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध 31 जनवरी, 2022 तक बढ़ा दिया गया है।

बयान के अनुसार, यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय ऑल-कार्गो संचालन और विशेष रूप से डीजीसीए द्वारा अनुमोदित उड़ानों पर लागू नहीं होगा।

इसने यह भी कहा कि अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को मामले के आधार पर चयनित मार्गों पर अनुमति दी जा सकती है।

बता दें कि यात्रियों की सुविधाओं के लिए केंद्र सरकार ने कई देशों के साथ द्विपक्षीय एयर बबल समझौतों के तहत विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें संचालित कीं हैं।

इस बीच पिछले 24 घंटों में 8,251 रोगियों के ठीक होने के साथ ही स्वस्थ होने वाले मरीजों (महामारी की शुरूआत के बाद से) की कुल संख्या बढ़कर 3,40,97,388 हो गई है।

नतीजतन, भारत में स्वस्थ होने की दर 98.36 प्रतिशत है। मार्च 2020 के बाद से ये अधिकतम है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 80,86,910 वैक्सीन की खुराक देने के साथ ही भारत का कोविड-19 टीकाकरण कवरेज आज सुबह 7 बजे तक अंतिम रिपोर्ट के अनुसार 130.39 करोड़ (1,30,39,32,286) के अहम पड़ाव से अधिक हो गया है। इस उपलब्धि को 1,35,89,181 टीकाकरण सत्रों के जरिए प्राप्त किया गया है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 09 Dec 2021, 08:25:01 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.