News Nation Logo
Banner

स्टील मिलों के सकल मार्जिन को प्रभावित कर रहा है कोकिंग कोयले की कीमत

स्टील मिलों के सकल मार्जिन को प्रभावित कर रहा है कोकिंग कोयले की कीमत

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 04 Sep 2021, 05:15:01 PM
High coking

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (इंड-रा) का कहना है कि कोकिंग कोल की ऊंची कीमतों से स्टील मिलों के सकल मार्जिन पर असर पड़ने की संभावना है।

अगस्त 2021 के मध्य में कोकिंग कोल की कीमतें 5 प्रतिशत और 103 प्रतिशत साल दर साल से 222 डॉलर प्रति मीट्रिक टन थीं।

ऑस्ट्रेलियाई कोकिंग कोयले की कीमतों को एशियाई देशों, पूर्व चीन से मजबूत मांग से समर्थन मिल रहा है। माल ढुलाई और कंटेनर अनुपलब्धता और उच्च माल ढुलाई दरों सहित रसद मुद्दों के कारण निकट अवधि के वितरण के लिए शीघ्र कोकिंग कोल कार्गो की सीमित उपलब्धता और समर्थन कर सकती है।

इससे अंतरराष्ट्रीय कोकिंग कोल की कीमतों को सपोर्ट मिलेगा।

जुलाई 2021 में भारत का कोकिंग कोयले का आयात 5.76 मीट्रिक टन था, जो महीने में 65 प्रतिशत और 114 प्रतिशत साल दर साल अधिक रहा है।

हालांकि, स्टील उत्पादन में सुधार हुआ है, घरेलू स्टील मिलों ने कोकिंग कोल की ऊंची कीमतों के कारण खरीद स्थगित कर दी थी। कम इन्वेंट्री ने स्टील उत्पादकों को जुलाई 2021 में अधिक मात्रा में आयात करने के लिए प्रेरित किया।

कइंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने देखा कि उत्पादन उपज को अधिकतम करने के लिए कोकिंग कोल के बेहतर ग्रेड के लिए भारतीय ब्लास्ट फर्नेस उत्पादकों की प्राथमिकता है, यह देखते हुए कि कंटेनर की कमी और उच्च माल ढुलाई लागत के बीच माल ढुलाई लागत ग्रेड की परवाह किए बिना समान है।

जुलाई 2021 में भारत की तैयार स्टील की खपत 7.66 एमएनटी, जो महीने में 1.3 प्रतिशत और 4.8 प्रतिशत साल दर साल अधिक था।

हालांकि, मॉनसून की शुरूआत के साथ निर्माण और इंफ्रा जैसे एंड-यूज उद्योगों की कम मांग के कारण जून-जुलाई 2021 में घरेलू खपत कमजोर रही है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 04 Sep 2021, 05:15:01 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.