News Nation Logo
Banner

केंद्र सरकार मध्यम वर्ग को इनकम टैक्स में दे सकती है बड़ी राहत

डायरेक्ट टैक्स कोड पर बनी समिति ने मध्यम वर्ग (Middle Class) से इनकम टैक्स का बोझ कम करने की सिफारिश की है.

By : Ravindra Singh | Updated on: 28 Aug 2019, 06:58:56 PM
आयकर भवन

आयकर भवन

नई दिल्‍ली:

केंद्र सरकार इनकम टैक्स (Income Tax Slabs) में बड़ी राहत दे सकती है. आपको बता दें कि हमारे सहयोगी चैनल न्यूज़ नेशन ने पहले ही डायरेक्ट टैक्स कोड पर समिति की रिपोर्ट पेश होने पर कहा था कि टैक्स स्लैब में बड़े बदलाव की संभावना है, अगर टैक्स स्लैब में बदलाव को मंजूरी मिली तो मध्यम वर्ग और कॉरपोरेट को बड़ी राहत मिल सकती है. डायरेक्ट टैक्स कोड पर बनी समिति ने मध्यम वर्ग (Middle Class) से इनकम टैक्स का बोझ कम करने की सिफारिश की है. अगर ये सिफारिशें लागू होती हैं तो मध्यम वर्ग पर टैक्स का बोझ घटकर आधा हो सकता है.

मीडिया में आईं खबरों के मुताबिक डायरेक्ट टैक्स कोड (DTC) पर बनी समिति ने पर्सनल इनकम टैक्स (Income Tax) की दरों में भी बदलाव का सुझाव दिया है ताकि टैक्स की चोरी में कमी लाई जा सके. पर्सनल इनकम टैक्स की दरों के मामले में समिति ने 5, 10 और 20 फीसदी के तीन स्लैब की सिफारिश की है, जबकि अभी 5, 20 और 30 प्रतिशत की दर से इनकम टैक्स लिया जाता है.

इससे पहले डायरेक्ट टैक्स (Direct Tax) में सुधार के लिए बनी टास्क फोर्स की टीम ने पिछले सप्ताह केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. टास्क फोर्स ने अपनी रिपोर्ट में आम आदमी के लिए इनकम टैक्स की दरों और स्लैब में बड़े बदलाव की सिफारिशें की हैं. सीएनबीसी आवाज के मुताबिक मध्यम वर्ग को पूरी राहत देने की तैयारी में है. इसमें इनकम टैक्स की सीमा बढ़ाकर 6.25 लाख रुपये कर दी गई है, जबकि मौजूदा समय में टैक्स रीबेट की सीमा 5 लाख रुपये है.

First Published : 28 Aug 2019, 06:58:56 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×