News Nation Logo
Banner

2021-22 में 17,400 करोड़ रुपये के मादक पदार्थ और 14 करोड़ सिगरेट हुये जब्त: सीबीआईसी

2021-22 में 17,400 करोड़ रुपये के मादक पदार्थ और 14 करोड़ सिगरेट हुये जब्त: सीबीआईसी

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 12 May 2022, 06:00:02 PM
carton cigarettephotopixabaycom

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नयी दिल्ली:   केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमाशुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) के अध्यक्ष विवेक जोहरी ने गुरुवार को बताया कि 2021-22 के दौरान बोर्ड ने 17,400 करोड़ रुपये की कीमत का 92 हजार किलोग्राम मादक पदार्थ और 14 करोड़ सिगरेट जब्त किया।

उन्होंने फिक्की की कैस्केड समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहा कि सबसे अधिक तस्करी सोने, मादक पदार्थ और सिगरेट की होती है। सीबीआईसी इनकी तस्करी रोकने में जुटी है।

उन्होंने कहा कि एआई और डाटा एनालिटिक्स तस्करी के मामलों की पहचान करने में अहम भूमिका अदा कर रहे हैं।

जोहरी ने कहा कि गैरकानूनी गतिविधियों में संलिप्त लोग मुक्त व्यापार समझौते, निर्यात संवर्धन योजनाओं और छूटों का बेजा इस्तेमाल करते हैं। सीबीआईसी इन चुनौतियों से निपटने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने बताया कि इसके लिये देश में आने वाले सभी कंटेनरों की स्कैनिंग सुनिश्चित करने के लिये 16 जगहों पर 22 कार्गो स्कैनर लगाये गये हैं।

फिक्की कैस्केड के अध्यक्ष अनिल राजपूत ने कहा कि तस्करी और अवैध व्यापार के कारण भारतीय अर्थव्यवस्था को अधिक नुकसान हो रहा है। इसे रोकने की तत्काल जरूरत है। इसके लिये नीतिगत पहल और जागरुकता दोनों जरूरी हैं।

सीबीआईसी के पूर्व अध्यक्ष एवं कैस्केड के सलाहकार पी सी झा ने कहा कि अवैध व्यापार का कारोबार बहुत बड़ा है और समय के साथ यह और तेजी से बढ़ता जा रहा है।

उन्होंने कहा कि घर में इस्तेमाल किये जाने वाले तीन में से एक एफएमसीजी उत्पाद असली नहीं है। पैकेटबंद चार खाद्य उत्पादों में से एक असली नहीं है और हर पांच में से एक तंबाकू उत्पाद नकली है।

पी सी झा ने कहा कि फिक्की कैस्केड के अध्ययन से पता चला है कि वित्त वर्ष 2013-14 के दौरान मात्र सात वस्तुओं के अवैध व्यापार के कारण सरकारी राजस्व में करीब 39 हजार करोड़ रुपये की हानि हुई। इससे उद्योग जगत को 1,05,000 करोड़ रुपये का बिक्री घाटा हुआ।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 12 May 2022, 06:00:02 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.